किसान सम्मान निधि योजना के लाभ से वंचित किसान

जिले के 56 वनग्रामों के किसानों का मामला, पीडि़त किसानों ने की योजना का लाभ दिए जाने की मांग

बालाघाट. वनग्रामों में बसना किसानों के लिए मुसीबत भरा हो गया है। दरअसल, केन्द्र सरकार द्वारा लघु एवं सीमांत किसानों को किसान सम्मान निधि प्रदान की जा रही है। लेकिन आज भी ऐसे अनेक किसान हैं, जिन्हें इस योजना का लाभ नहीं मिल रहा है। जो सरकार की नजर में किसान तो हैं, लेकिन राजस्व के रिकार्ड में दर्ज नहीं है। जिसके कारण उन्हें इस योजना का लाभ नहीं मिल पा रहा है। मामला वनग्रामों में निवास करने वाले किसानों का है। जिले के करीब ५६ वनग्रामों के किसानों को इस योजना का लाभ नहीं मिल पा रहा है।
वनग्राम के किसानों ने बताया कि जिले में ऐसे हजारों की संख्या में आदिवासी किसान हैं, जिन्हें किसान सम्मान निधि के लाभ से वंचित किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि उनका रिकार्ड राजस्व विभाग के पास दर्ज नहीं है। जबकि उन्हें अन्य योजनाओं का लाभ मिल रहा है। पीडि़त किसानों ने किसान सम्मान निधि योजना लाभ दिलाए जाने की मांग की है। विदित हो कि सरकार द्वारा ऐसे किसानों को अन्य योजनाओं का लाभ दिया जा रहा है। उनके खेतों में मेढ बंधान का कार्य किया गया है। सोसायटियों से उन्हें खाद और ऋण भी प्रदान किया जा रहा है। इतना ही नहीं इन किसानों का कर्जा भी माफ किया गया है। लेकिन किसानों को शासन की किसान सम्मान निधि के लाभ से वंचित रहने का मलाल भी है।
इन वनग्रामों का है मामला
जिले के टाटीघाट, सावरझोड़ी, टिकरिया, बारिया, कुकड़ा, वरुणगोटा, माटे, पालागोंदी, उसकालचक्र, जामझिरिया सहित परसवाड़ा, बैहर और बिरसा तहसील के वनग्राम शामिल है। किसानों ने बताया कि इन वनग्रामों में किसानों द्वारा वर्षों से कृषि कार्य किया जा रहा है। इतना ही नहीं शासन ने उन्हें वनभूमि के पट्टे भी प्रदान किए है। उन्होंने मांग की है कि इन वनग्रामों के किसानों को किसान सम्मान निधि का लाभ दिया जाए।
इनका कहना है
हम वर्षों से कृषि कार्य कर रहे हैं, लेकिन उन्हें केन्द्र सरकार की किसान सम्मान निधि योजना का लाभ नहीं मिल पा रहा है। शासन-प्रशासन को चाहिए कि उन्हें इस योजना का लाभ दिया जाए।
-लालसिंह टेकाम, किसान
शासन द्वारा उन्हें वनभूमि का पट्टा प्रदान किया गया है। लेकिन उनका रिकार्ड राजस्व मद में दर्ज नहीं है। जिसके कारण वनग्राम के किसानों को इसका लाभ नहीं मिल पा रहा है।
-सुमरत सिंह, किसान
सरकार को सभी किसानों को इस योजना का लाभ दिया जाना चाहिए। हम भी वन ग्राम में रहकर कृषि का कार्य ही करते हैं, लेकिन उन्हें इस योजना का लाभ नही ंमिलना समझ से परे है।
-इमरत सिंह, किसान

Bhaneshwar sakure
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned