किसी का सर्वे सूची से नाम गायब तो किसी नहीं मिली पाई बीमा राशि

किसी का सर्वे सूची से नाम गायब तो किसी नहीं मिली पाई बीमा राशि

Bhaneshwar sakure | Publish: Sep, 10 2018 09:30:59 AM (IST) Balaghat, Madhya Pradesh, India

हजारों किसान लगा रहे हैं बीमा राशि प्राप्त करने चक्कर, बीमा कंपनी ने जिले को 49.73 करोड़ रुपए का किया है भुगतान
फसल बीमा को बीत रहा एक साल, वर्ष 2017 में किसानों ने कराया था फसल बीमा

बालाघाट. किसी का सर्वे सूची में नाम ही नहीं तो किसी को बीमा राशि का भुगतान ही नहीं हो पाया। आलम यह है कि फसल बीमा की राशि प्राप्त करने के लिए किसानों को चक्कर काटना पड़ रहा है। इधर, हाल ही में फसल बीमा की राशि प्रदान किए जाने की मांग को लेकर खैरलांजी क्षेत्र के किसानों ने एक बड़ा आंदोलन भी किया था। बावजूद इसके किसानों की इस समस्या का समाधान नहीं हो पा रहा है। मामला वर्ष2017 में खरीफ फसल के प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत मिलने वाली राशि का है।
जानकारी के अनुसार जिले में पूर्व में किए गए सर्वे के अनुसार फसल बीमा के लिए पंजीकृत 39 हजार 206 किसान पात्र पाए गए है। इनके लिए के लिए बीमा कंपनी ने अगस्त माह में 49 करोड़ 73 लाख 78 हजार रुपए की राशि का भुगतान भी कर दिया है। लेकिन इस राशि का भुगतान किसानों को नहीं हो पाया है। जनपद पंचायत खैरलांजी के अंतर्गत ग्राम पंचायत खरखड़ी में पांच सैकड़ा से अधिक किसानों ने बीमा राशि की मांग को लेकर आंदोलन किया था। इसी तरह कटंगी विकासखंड के ग्राम पंचायत टेकाड़ी, चिरचिरा के आधा सैकड़ा से अधिक किसान भी फसल बीमा की मांग कर चुके हैं। इन किसानों का फसल बीमा की दावा राशि की सूची में नाम ही नहीं है। इसी तरह कटंगी के पठार क्षेत्र, लांजी, किरनापुर, परसवाड़ा विकासखंड सहित अन्य स्थानों के सैकड़ों किसानों को भी अभी तक फसल बीमा की राशि नहीं मिल पाई है।
जिला सहकारी केंद्रीय बैंक मर्यादित बालाघाट के अध्यक्ष राजकुमार रायजादा से मिली जानकारी के अनुसार बालाघाट शाखा के 227 किसानों के लिए 27 लाख 50 हजार रुपए, किरनापुर शाखा के 477 किसानों के लिए 48 लाख 54 हजार रुपए, लामता शाखा के 339 किसानों के लिए 6 लाख 88 हजार रुपए, लालबर्रा शाखा के 5098 किसानों के लिए 7 करोड़ 74 लाख 91 हजार रुपए, खमरिया शाखा के 4922 किसानों के लिए 6 करोड़ 88 लाख 32 हजार रुपए, वारासिवनी शाखा के 3577 किसानों के लिए 3 करोड़ 58 लाख 76 हजार रुपए, रामपायली शाखा के 2324 किसानों के लिए एक करोड़ 87 लाख 14 हजार रुपए, डोंगरमाली शाखा के 4177 किसानों के लिए 4 करोड़ 72 लाख 42 हजार रुपए, खैरलांजी शाखा के 1309 किसानों के लिए 83 लाख 86 हजार रुपए की राशि बीमा कंपनी से प्राप्त हुई है। इसी प्रकार कटंगी शाखा के 5532 किसानों के लिए 8 करोड़ 17 लाख 91 हजार रुपए, तिरोड़ी शाखा के 3713 किसानों के लिए 6 करोड़ 39 लाख 37 हजार रुपए भानेगांव शाखा के 2186 किसानों के लिए एक करोड़ 91 लाख 65 हजार रुपए, साडरा शाखा के 2542 किसानों के लिए 4 करोड़ 3 लाख 42 हजार रुपए, लांजी शाखा के 1891 किसानों के लिए एक करोड़ 84 लाख 74 हजार रुपए, बैहर शाखा के 41 किसानों के लिए 3 लाख 91 हजार रुपए, बिरसा शाखा के 547 किसानों के लिए 43 लाख 37 हजार रुपए, परसवाड़ा शाखा के 304 किसानों के लिए 41 लाख 8 हजार रुपए की राशि बीमा कंपनी से प्राप्त हुई है।
इनका कहना है
मेरे द्वारा सेवा सहकारी समिति सिरपुर से वर्ष 2017-18 में फसल बीमा कराया गया था। लेकिन फसल बीमा की दावा राशि की जो सूची आई है, उसमें उसका नाम नहीं है। जबकि उसकी फसल को काफी क्षति पहुंची है। जिससे उसे नुकसान हुआ है।
-चैनकुमार, कृषक, चिरचिरा, कटंगी
मेरा और मेरी पत्नी के नाम से गत वर्ष फसल बीमा की राशि एक साथ जमा की गई थी। उसकी पत्नी के नाम से 5976 रुपए की बीमा राशि आ गई है। लेकिन उसके नाम से कोई भी राशि नहीं आई है। उसने शीघ्र ही बीमा राशि प्रदान किए जाने की मांग की है।
-मोहम्मद खालिक, कृषक, दिघोरी, लांजी
मेरे द्वारा भी खरीफ फसल २०१७ में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत बीमा कराया गया था। फसल बीमा की राशि भी काट ली गई। लेकिन उसे आज तक बीमा राशि नहीं मिल पाई है। फसल बीमा की राशि प्रदान किए जाने अनेक बार शिकायत कर चुका हूं।
-भुवनलाल पटले, अमेड़ा, लांजी
बैंक की 17 शाखाओं में पंजीकृत 39206 किसानों के लिए बीमा कंपनी द्वारा 49.73 करोड़ रुपए की राशि का भुगतान किया गया है। इनमें से अधिकांश किसानों को बीमा राशि का भुगतान कर दिया गया है। शेष किसानों के खातों में राशि जमा कराई जा रही है।
-राजकुमार रायजादा, अध्यक्ष, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक, बालाघाट

Ad Block is Banned