तैनात रहेगी पुलिस, प्रात: ०६ बजे से जिले में प्रभावी होगी धारा १४४

तैनात रहेगी पुलिस, प्रात: ०६ बजे से जिले में प्रभावी होगी धारा १४४

Mukesh Yadav | Publish: Sep, 05 2018 09:08:02 PM (IST) Balaghat, Madhya Pradesh, India

बंद को लेकर पुलिस और प्रशासन मुस्तैद, तैयारी पूरी

बालाघाट. एट्रोसिटी एक्ट पास होने के विरोध में राष्ट्र व्यापी आह्वान पर जिले में भी ०६ सिंतबर को बालाघाट बंद का आह्वान सर्व समाज (सपाक्स) संगठन ने किया है। सपाक्स संगठन के बंद को अब तक मेडिकल ऐसोसिएशन, बस आपरेटर सहित अन्य विभिन्न संगठनों ने अपना समर्थन दिया है। जिनके द्वारा अपने प्रतिष्ठान बंद रखे जाने की लिखित सूचना भी कलेक्टर को प्रेषित कर दी गई है। इधर बंद के दौरान कोई अप्रिय घटना घटित न हो इसको लेकर भी पुलिस और प्रशासन पूरी तरह से मुस्तैद है। जिनके द्वारा पूर्ण तैयारियां व व्यवस्थाएं कर लिए जाने की बात कही जा रही है। कलेक्टर डीव्ही सिंह के अनुसार कानून व्यवस्था की दृष्टि से 6 सितंबर को प्रात: 6 बजे से आगामी आदेश तक के लिए संपूर्ण बालाघाट जिले के लिए धारा 144 लागू करने के आदेश दिए हैं।
इस धारा के लागू होने से कोई भी व्यक्ति सक्षम अधिकारी की अनुमति के बगैर रैली सभा जुलूस आदि का आयोजन नहीं कर सकेगा और ना ही अस्त्र शस्त्र लेकर चल सकेगा। सोशल मीडिया ट्यूटर, फेसबुक, व्हाट्सएप पर भी कोई भी व्यक्ति अफवाह फैलाने और सामाजिक वैमनस्यता लाने वाली पोस्ट करेगा तो उसके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी। आम नागरिकों से भी अपील की गई है कि वह सोशल मीडिया में आपत्तिजनक पोस्ट ना करें और ना ही ऐसी पोस्ट को फॉरवर्ड और लाइक करें। वहीं पुलिस अधीक्षक जयदेवन ए के अनुसार बंद को लेकर पूरी तरह से व्यापक तैयारियां कर ली गई है। बाहर से भी बल बुलाया गया है। बंद के दौरान प्रात: से पुलिस चप्पे-चप्पे पर तैनात रहेगी। वहीं संवेदनशील क्षेत्रों में भी पुलिस मोबाइल लगातार सर्चिंग व गस्ती करेगी। एसपी के अनुसार उन्हें बंद की अपील करने वालों से किसी भी तरह की हिंसा न करने और शांति पूर्ण ढंग से विरोध प्रगट करने की समझाईश दी है। इसके बावजूद अगर कोई अप्रिय स्थिति बनती है तो पुलिस कानूनी तरीके से उससे निपटने तैयार है।
इधर सपाक्स ने की बंद की अपील
इधर एट्रेासिटी एक्ट पास होने के विरोध में सपाक्स के साथ सर्वण और ओबीसी वर्ग खुलकर सड़क उतर आए है। सवर्ण और ओवीसी वर्ग ने एससी, एसटी एक्ट के संशोधित बिल को समाज को बांटने वाला बताया है। बुधवार को सर्व समाज के पदाधिकारियों ने शहर में भ्रमण कर व्यापारियों से अपने अपने प्रतिष्ठान ०६ सितंबर को लेकर बंद रखने की अपील की। इन संगठनों को बस आपरेटरों ने भी सहयोग प्रदान किया है। बस ट्रांसपोर्ट यूनियन के सचिव श्याम कौशल के अनुसार डीजल मूल्यों के बढ़ते दाम पर ड्राइवर कंडेटरों ने बंद के दौरान कार्य नहीं करने की बात कही है। इस कारण बस आपरेटरों को भी बसें बंद रखनी पड़ रही है। इन्होंने बताया कि बंद के दौरान सवारियां भी नहीं मिलती है इस कारण उनके द्वारा बसें बंद रखने का निर्णय लिया गया है। इसी तरह मेडिकल ऐसोसिएशन के अध्यक्ष सुरेश ने भी कलेक्टर को लिखित में सूचना प्रेषित कर ०६ सितंबर को दोपहर एक बजे तक सभी दवा दुकाने बंद रखने की जानकारी प्रेषित की है। सोनी के अनुसार बंद के दौरान कोई वाद विवाद की स्थिति या अप्रिय घटना न हो इसके लिए ऐसा निर्णय लिया गया है।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned