तालाब में डूबने से युवक की मौत

mukesh yadav

Publish: Sep, 16 2017 04:50:44 (IST)

Balaghat, Madhya Pradesh, India
तालाब में डूबने से युवक की मौत

पुलिस ने मर्ग दर्ज कर शव का कराया पीएम

बालाघाट. वारासिवनी थाना क्षेत्र के वार्ड नंबर ०९ में स्थित बोड़ी नुमा तालाब में शुक्रवार को एक युवक का शव दिखाई दिया। सूचना पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को बाहर निकाला। जिसकी शिनाख्त इसी वार्ड के बसंत देशमुख के रूप में की गई। बताया जा रहा है कि मृतक को मिर्गी रोग की शिकायत थी। पुलिस ने इसे मामलें में मर्ग कायम करते हुए शव को पीएम के बाद परिजनों को सौंप दिया है।
मृतक के छोटे भाई ललित देशमुख ने बताया कि १५ सितंबर की सुबह मृतक बसंत ने घर में चाय व नास्ता किया और बाहर निकल गया। हम सभी अपने अपने कार्य पर लग गए। दोपहर करीब तीन साढ़े तीन बजे हमें इस बात की जानकारी लगी की एक व्यक्ति बोड़ी तालाब में डूबा हुआ दिखाई दे रहा है। जिसका सिर पानी के अंदर व शरीर का बाकी हिस्सा पानी के ऊपर है। हम लोगों ने जाकर देखा तो कपड़े से पहचाना की उक्त मृतक बसंत है। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई।
गौरतलब है कि मृतक मिर्गी रोग से पीडि़त था। जिसका शव दोपहर में एक दस वर्षीय बालक सुमित देवगड़े ने तालाब में मछली देखने के दौरान देखा। उसने तत्काल इस बात की जानकारी अपने पिता को दी। जिन्होंने पुलिस को सूचना दी। हालांकि मृतक को जानने वाले लोग बता रहे हंै कि बसंत सुबह के दौरान तालाब के किनारे दिखाई दिया था। शायद उसी समय उसे मिर्गी का दौरा पड़ा होगा, जिससे वो पानी में गिरा और उसकी डूबने से मौत हो गई।
टूरिज्म प्रमोशन काउंसिल की बैठक संपन्न
बालाघाट. टूरिज्म प्रमोशन काउंसिल की बैठक शुक्रवार को दोपहर जिला पंचायत सभाकक्ष में आयोजित की गई। इस दौरान प्रमुख रूप से जिपं सीईओ मंजूषा राय, काउंसिल के सदस्य, विभागीय अधिकारी, रोटरी क्लब आफ वैनगंगा के सदस्य, नगरपालिका के प्रतिनिधि आदि उपस्थित रहे।
बैठक में मुख्यमंत्री कार्यालय जन शिकायत निवारण, पर्यटन तथा लोक प्रबंधन मंत्रालय भोपाल के पत्र में दिए गए निर्देशों के क्रियान्वयन हेतु चर्चा की गई। वहीं 16 से 30 सितम्बर तक स्वच्छता पखवाड़े हेतु जारी निर्देशों के पालन की रणनीति तैयार की गई। स्वच्छ भारत मिशन के सहयोग से प्रत्येक विकास खंड में स्वच्छता रथ में जैविक, अजैविक कचरे को अलग-अलग करने हेतु प्रचार-प्रसार एवं जागरुकता गतिविधियां आयोजित करने के उद्देश्य को लेकर प्रत्येक विकास खंड से ग्रामों में रथ भ्रमण कराए जाने की प्रभारी अधिकारी को जिम्मेदारी सौंपी गई।
पृथकीकरण के लिए करेंगे प्रेरित
टूरिज्म के एवं विशेषकर पर्यटन क्षेत्र के होटल एवं रिसार्ट में कचरे के पृथकीकरण करने प्रेरित करने, हरे में जैविक एवं नीले में अजैविक कचरा रखा जाने, प्रथम चरण में कान्हा नेशनल पार्क के आसपास के होटल एवं रिसार्ट को कार्रवाई कराने जैसे मुद्दों पर विचार विमर्श कर रूपरेखा तैयार की गई। बैठक के अंत में सीईओ एवं सचिव बालाघाट टूरिज्म प्रमोशन काउंसिल द्वारा उपस्थित सदस्यगणों को धन्यवाद ज्ञापित किया गया।

1
Ad Block is Banned