महिला PCS सुसाइड: मणि मंजरी राय के फोन पर आखिरी कॉल नायाब तहसीलदार का, सवा घंटे हुई थी बात

दो बार हुई थी बातचीत, पहली बार आधे घंटे और फिर 45 मिनट।

बलिया. नगर पंचायत मनियर की ईओ युवा महिला पीसीएस मणि मंजरी राय आत्महत्या मामले में उनकी मोबाइल कॉल डिटेल बेहद अहम साबित हो सकती है। पुलिस की जांच परिवार के लगाए गए आरोपों के साथ ही कॉल डिटेल्स के आधार पर आगे बढ़ रही है। जांच में यह बात निकलकर सामने आई है कि मणि मंजरी राय की मोबाइल पर अंतिम बातचीत नायाब तहसीलदार रजत सिंह से हुई थी। दोनों के बीच करीब डेढ़ घंटे तक दोनों के बीच मोबाइल पर बातचीत हुई। उधर पुलिस सूत्रों के मुताबिक आरोपित चालक ने भी दावा किया है कि परेशान होने पर मैडम मुझे फोन करती थीं। पुलिस अब इस बात का पता लगाने की कोशिश कर रही है कि तहसीलदार और मृतका ईओ के बीच क्या बात हुई थी।

 

मणि मंजरी राय का शव उनके आवास विकास के किराये के फ्लैट में कमरे में फंदे से लटकता हुआ पाया गया था। इसके बाद परिवार वालों की तहरीर पर चेयरमैन समेत पांच लोगों के खिलाफ़ मुकदमा दर्ज हुआ। इसके बाद से पुलिस ने मामले की जांच तेज़ कर दी है। पुलिस इस मामले में अब फोन कॉल डिटेल के एंगल को लेकर भी आगे बढ़ रही है। पुलिस को मणि मंजरी राय की कॉल से पता चला है कि मौत से पहले उनकी अंतिम बातचीत नायाब तहसीलदार रजत सिंह के साथ हुई।

 

कॉल डिटेल्स के मुताबिक नायाब तहसीलदार की रात को दो बार ईओ से फोन पर बात हुई थी। आठ बजे से साढ़े आठ बजे के बीच लगभग आधे घंटे बात हुई। फिर दोबारा लगभग 45 मिनट तक दोनों के बीच बातचीत हुई। पुलिस के मुताबिक कॉल डिटेल से यह भी सामने आया है एक दिन पहले पांच जुलाई को भी दिन व रात में दोनों के बीच कई बार फोन से संपर्क हुआ।

 

दोनों के बीच क्या बात हुई यह नायाब तहसीलदार से पूछताछ में सामने आयेगा। पुलिस मृतका ईओ के आरोपित ड्राइवर से भी रात में ईओ की बातचीत होने का दावा किया है। सूत्रों के हवाले से यह भी पता चला है कि आरोपित ड्राइवर नायाब तहसीलदार का उस समय कार चालक था जब वह कुछ माह पहले चितबड़ागांव नगर पंचायत में ईओ के पद पर कार्यरत थे। नगर कोतवाल का कहना है कि तफ्तीश चल रही है और आगे की जांच में सबकुछ और स्पष्ट हो जाएगा।

 

बताते चलें कि मृतका ईओ के भाई गाजीपुर के भांवरकोल थानान्तर्गत कनुआन निवासी विजय नंद राय की तहरीर पर मनियर नगर पंचायत चेयरमैन भीम गुप्त, सिकन्दरपुर ईओ संजय राव, मनियर नपं के क्लर्क विनोद सिंह व कम्प्यूटर आपरेटर अखिलेश के साथ ही अज्ञात चालक व अन्य अज्ञात पर आत्महत्या के लिये प्रेरित करने का मुकदमा दर्ज किया है। जांच में चालक की पहचान शहर के अमृतपाली निवासी चंदन वर्मा के रूप में हुई है। पुलिस शनिवार को ही उसे कब्जे में लेकर पूछताछ की। तहरीर में भी ड्राइवर पर अन्य आरोपितों से मिले होने का आरोप लगाया है।

 

'मस्त' ने सीएम को लिखी चिट्ठी, जांच की मांग

बलिया के सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त ने सीएम योगी अदित्यनाथ को पत्र लिखकर मनियर की पीसीएस अधिकारी ईओ मणिमंजरी राय की मौत के प्रकरण की जांच उच्च स्तरीय कमेटी से कराने की मांग की है। सांसद ने अपने पत्र में बलिया संसदीय क्षेत्र की निवासी मनियर नगर पंचायत की तेज-तर्रार ईओ की मौत को आत्महत्या बताया गया। हालांकि मृत ईओ के पिता ने आत्महत्या के पीछे बड़े षड़यंत्र का आरोप लगाया है। ऐसे में उच्च स्तरीय कमेटी का गठन कर दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई सुनिश्चित कराने की कृपा करें।

 

'प्रियंका गांधी' ने भी उठाया मुद्दा

उधर कांग्रेस की महासचिव उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी ने भी सीएम योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर मनियर ईओ मणिमंजरी राय की मौत की जांच कराने की मांग की है। उनका कहना है कि परिजनों के आरोप गंभीर हैं। परिजन इसकी पारदर्शी जांच होनी चाहिए।

By Amit Kumar

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned