दो साल के बच्चे को जहरीले सांप ने मुंह में डसा था, पास में सो रही मां की जागरूकता से बच गई मासूम की जान, नहीं तो...

मां के साथ सोए दो साल के बच्चे को जहरीले करैत सांप ने डस लिया। बच्चे को तत्काल जिला अस्पताल पहुंचाया गया।

By: Dakshi Sahu

Published: 14 Oct 2021, 04:41 PM IST

बालोद. जाको राखे सांईया मार सके न कोय। जिले के ग्राम चिचबोड़ में अपनी मां के साथ सोए दो साल के बच्चे को जहरीले करैत सांप ने डस लिया। बच्चे को तत्काल जिला अस्पताल पहुंचाया गया। पहले दिन स्थिति गंभीर थी। समय पर इलाज मिला तो दूसरे दिन बच्चे की स्थिति सुधरने लगी। तीन दिन के इलाज के बाद पूरी तरह से स्वस्थ होने के बाद बुधवार को बच्चे को डिस्चार्ज कर दिया गया।

बच्चे के मुंह को डंसा था
घटना तीन दिन पहले रविवार रात की है। दो साल का दौलत अपनी मां के साथ सोया था, तभी जहरीला सर्प बच्चे के पास चला गया। बच्चा उसे देखकर रोने लगा। फिर सर्प ने उसके मुंह को डंस लिया। बच्चे के ज्यादा रोने और मुंह के पास से खून निकलते देख तत्काल जिला अस्पताल पहुंचाया। समय पर इलाज होने पर जान बच गई। देर हो जाती तो कुछ भी हो सकता था।

इस साल सर्प डंसने के 15 से अधिक मामले
इस साल बालोद जिले में जहरीले सर्प के डसने के 15 से अधिक और बिच्छु काटने के 20 से अधिक मामले सामने आए हैं। हालांकि जिन मामले में देर से अस्पताल आए, उन्हीं मामले में मौत हुई है। समय पर अस्पताल आने से जिनका इलाज हुआ, वे स्वस्थ हैं।

झाड़-फूंक न कराकर तत्काल लाएं अस्पताल
बालोद जिला अस्पताल के चिकित्सक और सिविल सर्जन डॉ. एसएस देवदास ने बताया कि बच्चे के माता-पिता जागरूक हैं, जिन्होंने घटना के बाद इलाज के लिए अस्पताल पहुंचे। इस तरह की घटनाएं घटती हैं तो तत्काल इलाज के लिए अस्पताल लाएं। झाड़-फूंक के चक्कर में समय न गंवाएं। इलाज की पूरी सुविधाएं हंै। अगर देर करेंगे तो मरीज की मौत हो सकती है।

Show More
Dakshi Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned