पेट्रोल पंप में कार में डीजल की जगह भर दिया 1 हजार रुपए का पानी, जांच करने पहुंची टीम नजारा देख रह गई हैरान

जिला मुख्यालय के नए बस स्टैंड के पास स्थित पेट्रोल पंप में एक कार में डीजल की जगह पानी भर दिया गया, जिससे बवाल हो गया। (Petrol pump in Balod)

By: Dakshi Sahu

Updated: 19 May 2020, 02:17 PM IST

बालोद. जिला मुख्यालय के नए बस स्टैंड के पास स्थित पेट्रोल पंप में एक कार में डीजल की जगह पानी भर दिया गया, जिससे बवाल हो गया। डोंगरगढ़ का एक व्यक्ति किसी काम के सिलसिले में बालोद आया। पेट्रोल पंप में डीजल भरवाकर वापस जा रहा था, तभी कुछ ही दूर जाने के बाद उसकी गाड़ी बंद हो गई। वह वापिस उसी पेट्रोल पंप में पहुंचा। दूसरी बार गाड़ी के डीजल टैंक को खाली करवाकर डीजल डलवाया, जिसमें फिर पानी निकला। कुछ ही देर में दर्जनों लोग जमा हो गए। इसकी जानकारी खाद्य विभाग की टीम को मिली। मौके पर फूड इंस्पेक्टर सहित अन्य लोग पहुंचे।

डोंगरगढ़ से आए मुकेश कुमार साहू ने बताया कि वह पीएचई दफ्तर किसी काम के सिलसिले में आया था। गाड़ी में डीजल कम होना देख डीजल भरवाने बस स्टैंड के पास स्थित पुरुषोत्तम दास संतोष पेट्रोल पंप में पहुंचा। वहां 1000 रुपए का डीजल डलवाया। थोड़ी दूर जाने के बाद गाड़ी बंद हुई तो वह पेट्रोल पंप वापस लौटा, तब कर्मचारियों ने गाड़ी की डीजल टंकी देखी तो उसमें पानी मिला। वह अपनी गलती मान कर टैंक साफ करवाया। दोबारा से एक हजार रुपए का डीजल डलवाया। जिसमें फिर पानी निकला। तब उन्हें पता चला कि समस्या उनकी गाड़ी में नहीं बल्कि पेट्रोल पंप में है।

एक टैंक में है समस्या
पेट्रोल पंप के मैनेजर श्रवण साहू ने कहा कि एक टैंक में ऐसी समस्या है। बाकी सभी टैंक ठीक है। सॉफ्टवेयर खराब हो जाने के कारण टैकों में भरे डीजल की मात्रा व उसमें पानी की मात्रा होने की जानकारी नहीं मिल पाई। एक दिन पहले हुई बरसात का पानी डीजल टैंक में किसी ओर से पहुंच जाने की बात मैनेजर ने कही। मौके पर पहुंचे अधिकारियों के सामने अपनी गलती स्वीकार कर ली।

आज पहुंचेंगे नापतौल अधिकारी
डीजल में पानी मिलने की जानकारी होते ही खाद्य विभाग की टीम ने पहुंचकर प्राथमिक प्रक्रिया पूरी की, लेकिन कार्रवाई की जिम्मेदारी नापतौल विभाग की होती है। मंगलवार को नापतौल अधिकारी टोप्पो पेट्रोल पंप पर पहुंच कर कार्रवाई करेंगे।

आगामी आदेश तक डीजल वितरण पर रोक
फूड इंस्पेक्टर ने बताया कि डीजल टैंक में पानी मिलने के कारण तत्काल डीजल वितरण पर रोक लगाकर डीजल जब्त कर लिया गया है। जब तक कलेक्टर डीजल वितरण के लिए सहमति नहीं देंगी, तब तक रोक जारी रहेगी। खाद्य विभाग की टीम ने मशीनों का रीडिंग लिख लिया है।

Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned