Akshay Navami Parikrama 2017: 105 वर्ष पुरानी है बलरामपुर की अक्षय नवमी परिक्रमा

Akshay Navami Parikrama 2017: 105 वर्ष पुरानी है बलरामपुर की अक्षय नवमी परिक्रमा
Akshay Navami Parikrama 2017

Shatrudhan Gupta | Updated: 25 Oct 2017, 06:47:48 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

बलरामपुर की अक्षय नवमी परिक्रमा 105 साल पुरानी है। इस साल 29 अक्टूबर को अक्षय नवमी का पर्व है।

बलरामपुर. बलरामपुर की Akshay Navami Parikrama अक्षय नवमी परिक्रमा 105 साल पुरानी है। इस साल 29 अक्टूबर को अक्षय नवमी का पर्व है। अक्षय नवमी के अवसर पर बलरामपुर नगर की होने वाली परिक्रमा की तैयारियों के सन्दर्भ में अक्षय नवमी परिक्रमा समिति, बलरामपुर की महत्वपूर्ण बैठक विश्व हिंदू परिषद के प्रान्तीय पदाधिकारी अविनाश मिश्रा की अध्यक्षता में बुधवार को श्री झारखंडी मन्दिर पर हुई।

श्रद्धालुओं को नहीं होने दी जाएगी असुविधा

परिक्रमा समिति के अध्यक्ष रघुनाथ अग्रवाल ने कहा कि समिति के सदस्यों व प्रशासनिक अधिकारियों के साथ परिक्रमा मार्ग का निरीक्षण अतिशीघ्र किया जाएगा। उन्होंने बताया कि मार्ग में श्रद्धालुओं को कोई असुविधा न हो, इसका पूर्ण प्रबंध किया जाएगा। महामंत्री श्याम गोपाल सक्सेना ने बताया कि परिक्रमा का शुभारंभ सांसद दद्दन मिश्रा की अध्यक्षता में होगा एवं मुख्य अतिथि सदर विधायक पल्टू राम व विशिष्ट अतिथि तुलसीपुर विधायक कैलाश नाथ शुक्ल होंगे। समिति पदाधिकारियों ने बताया कि परिक्रमा पूर्ण होने पर शाम तीन बजे समापन आरती उतरौला विधायक रामप्रसाद वर्मा द्वारा की जाएगी।

स्वास्थ्य विभाग की टीम रहेगी अलर्ट

समिति के डॉ. तुलसीश दुबे ने बताया कि बलरामपुर नगर छोटी काशी के नाम से भी जाना जाता है तथा यहां की परिक्रमा अत्यंत पुरातन है। उन्होंने बताया कि 1912 में इस समिति की स्थापना हुई थी। इस परिक्रमा में लगभग आठ से दस हजार की संख्या में श्रद्धालु सम्मिलित होते हैं, जिसमें महिला श्रद्धालुओं की संख्या अधिक रहती है। अत: श्रद्धालुओं को कोई असुविधा न हो, इसके लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से प्राथमिक उपचार सुविधा से संपन्न एक एम्बुलेंस व पर्याप्त मात्रा में महिला पुलिस सहित भारी संख्या में पुलिस कर्मी सुरक्षा व सहयोग के लिए साथ रहते हैं।

विश्व हिंदू परिषद के नगर मंत्री अम्बरीश शुक्ल, रजत प्रकाश व बजरंग दल के संयोजक निशांत चौहान, डब्लू पाण्डेय ने बताया कि अक्षय नवमी परिक्रमा में आए श्रद्धालुओं का सहयोग संगठन के कार्यकर्ता भी करेंगे। परिक्रमा के सफल संचालन के लिए झारखंडी मन्दिर के प्रधान पुजारी बाबा लाल जी गिरी, राम प्यारे कश्यप, नारायण बाबा आदि ने भी महत्वपूर्ण सुझाव दिए। बैठक में बाबा दीन तिवारी, ओपी शर्मा, भानु प्रकाश तिवारी, लकी गुप्ता समेत कई सदस्य मौजूद रहे।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned