script बहू निखत से बोला मुख्तार-मैं बहुत बदनसीब हूं...बांदा जेल में तीन घंटे तक पोते का चूमता रहा माथा | Bahubali mafia Mukhtar ansari emotional seeing daughter-in-law Nikhat grandson Azhar in Banda jail | Patrika News

बहू निखत से बोला मुख्तार-मैं बहुत बदनसीब हूं...बांदा जेल में तीन घंटे तक पोते का चूमता रहा माथा

locationबांदाPublished: Dec 12, 2023 11:49:27 am

Submitted by:

Vishnu Bajpai

UP News: बाहुबली माफिया मुख्तार अंसारी की बहू निखत अपने बेटे को लेकर बांदा जेल पहुंचीं। यहां पोते और बहू को देखकर मुख्तार मुख्तार अंसारी भावुक हो गया। बोला मैं बहुत बदनसीब हूं…

mukhtar_ansari_banda_jail.jpg
Mukhtar Ansari Update: यूपी के बाहुबली माफिया मुख्तार अंसारी बांदा जेल में बंद हैं। सोमवार को उनसे मुलाकात के लिए उनकी बहू निखत अपने बेटे के साथ बांदा जेल पहुंची। वकील की मौजूदगी में उनकी मुलाकात जेल मैनुअल के अनुसार माफिया मुख्तार अंसारी से कराई गई। इस दौरान जेल प्रशासन पूरी तरह चौकन्ना नजर आया। वहीं जेल में बहू निखत और दो साल के पोते को देखते ही मुख्तार ने उन्हें सीने से लगा लिया। इस दौरान भावुक हुए माफिया ने कहा कि अब कुछ दिन सुकून और चैन से कट जाएंगे।
सोमवार सुबह करीब साढ़े दस बजे बाहुबली माफिया की बहू निखत अपने दो साल के बेटे के साथ बांदा जेल पहुंची। इसके बाद बांदा के एक वकील की मौजूदगी में निखत 11 बजे जेल के अंदर दाखिल हुईं। इसके बाद सवा दो बजे वो जेल से बाहर निकलीं। इस दौरान निखत ने मीडिया से दूरी बनाए रखी। हालांकि उन्होंने धीमी आवाज में ये जरूर कहा कि यहां सच बोलना भी अपराध है।

जेल अफसरों की निगरानी में निखत से मिला मुख्तार अंसारी


बांदा जेल अधीक्षक वीरेश राज शर्मा ने बताया कि सोमवार को कोर्ट के आदेश पर निखत की मुलाकात माफिया मुख्तार से कराई गई। इस दौरान जेल मैनुअल का पूरा पालन किया गया। मुलाकात के दौरान एलआईयू, जिला प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों की निगरानी में सीसीटीवी से दोनों की निगरानी की गई। करीब तीन घंटे की मुलाकात में ससुर-बहू ने एक-दूसरे की खैरियत जानी।
जेल सूत्रों का कहना है कि मुलाकात के दौरान मुख्तार ने बहू निखत और पोते अजहर को देखते ही सीने से लगा लिया। बहू ने मुख्तार पूछा कि आप ठीक हो। चित्रकूट जेल में ज्यादा तकलीफ तो नहीं हुई। पोते का गाल चूमते हुए मुख्तार बोला मैं बहुत बदनसीब हूं। पोते को खुशियां देने के बजाय तकलीफें दे रहा हूं। बाद में खुद को संभालते हुए बहू से कहा कि खैर सब ठीक हो जाएगा। अल्लाह को यही पसंद था।

ट्रेंडिंग वीडियो