पेट्रोल डीजल की बढ़ी दरों को लेकर कांग्रेस ने दिया धरना, बढ़े हुए वैट के दर को वापस ले सरकार

पेट्रोल डीजल की बढ़ी दरों को लेकर कांग्रेस ने दिया धरना, बढ़े हुए वैट के दर को वापस ले सरकार
पेट्रोल डीजल की बढ़ी दरों को लेकर कांग्रेस ने दिया धरना, बढ़े हुए वैट के दर को वापस ले सरकार

Neeraj Patel | Publish: Aug, 22 2019 02:45:02 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

देश सरकार द्वारा वैट व पेट्रोल की दरों में बढ़ोत्तरी से अपनी नाराजगी जताते हुए कांग्रेसियों ने बांदा कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन कर राज्यपाल को सम्बोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा है।

बांदा. प्रदेश सरकार द्वारा वैट व पेट्रोल की दरों में बढ़ोत्तरी से अपनी नाराजगी जताते हुए कांग्रेसियों ने बांदा कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन कर राज्यपाल को सम्बोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा है। कांग्रेसियों ने प्रदेश सरकार को गरीबों का विरोधी व पूंजी पतियों का हितैसी बताया है। कांग्रेसियों ने ज्ञापन के माध्यम से महामहिम राज्यपाल से अनुरोध किया है कि वह प्रदेश सरकार को चेतावनी देते हुए निर्देशित करें कि वो बढ़े हुए वैट के दर को वापस लें।

सरकार ने आम जन-मानस की तोड़ी कमर

जिले में कांग्रेसियों ने कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन कर राज्यपाल को सम्बोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपकर प्रदेश सरकार को गरीबों का दुश्मन व अमीरों का हितैसी बताया है। कांग्रेसियों का कहना था कि प्रदेश सरकार द्वारा अमीरों के हित की नीतियों एवं निर्णयों के चलते आम जन-जीवन की जरूरतों वाली वस्तुओं की कीमतों में बेतहासा वृद्धि करने से प्रदेश की जनता त्राहि-२ कर रही है। वहीं प्रदेश सरकार द्वारा पेट्रोल एवं डीजल के सम्बंधित कर वैट की दरों में अचानक वृद्धि कर मंहगाई से आम जन-मानस की कमर तोड़ने का कार्य किया जा रहा है।

पेट्रोल के दाम बढ़ाकर अपना खजाना भरती है सरकार

इस ज्ञापन के बारे में जानकारी देते हुए बांदा जिला कांग्रेस कमेटी के जिलाध्यक्ष अखिलेश शुक्ला ने कहा कि प्रदेश की भार्तीय जनता पार्टी सरकार आम आदमी के हित का कोई कार्य नहीं करती है, वह पूंजी पतियों पर पैसा लुटाती है और जब इसका खजाना खाली हो जाता है तो वैट व पेट्रोल के दाम बढ़ाकर अपना खजाना भरती है। इसके साथ ही कहा कि ऐसी जन-विरोधी सरकार के खिलाफ हमने महामहिम राज्यपाल को सम्बोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को दिया है व मांग की है कि वो इस सरकार को आगाह करें, चेतावनी दें निर्देशित करें कि वो ऐसे जन विरोधी कार्य न करें और बढ़े हुए वैट के दर को वापस लें।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned