होली के त्यौहार को लेकर निकाला गया फ्लैग मार्च, जानिए क्या है प्रशासन का मुख्य उद्देश्य, देखें वीडियो

होली के त्यौहार को लेकर निकाला गया फ्लैग मार्च, जानिए क्या है प्रशासन का मुख्य उद्देश्य, देखें वीडियो

Neeraj Patel | Publish: Mar, 16 2019 10:30:17 AM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

लोकसभा चुनाव 2019 की घड़ी आ चुकी करीब, शांतिपूर्ण मतदान संपन्न कराने के लिए प्रशासन ने कस ली कमर,

बांदा. लोकसभा चुनाव 2019 की घड़ी करीब आ चुकी है। जनपद में शांतिपूर्ण मतदान संपन्न कराने के लिए प्रशासन ने अभी से कमर कस ली है। शहर की शान्ति व्यवस्था बनाए रखने, आगामी चुनाव तथा आगामी होली के त्यौहार को देखते हुए बांदा एसपी की अगुवाही में शहर में फ्लैग मार्च निकाला गया। सीआरपीएफ के अफसर व पुलिसकर्मी तथा जिले के सभी थाने-चौकियों की फाॅर्स को लेकर इस फ्लैग मार्च को निकाला गया है जिससे शान्ति पूर्ण तरीके से होली व लोकसभा चुनाव संपन्न हो सके।

शहर में पुलिस अधीक्षक की अगुवाही में सीआरपीएफ की फाॅर्स व सभी चौकी-थानों की फाॅर्स लेकर फ्लैग मार्च निकाला गया है। फ्लैग मार्च की शुरूआत शहर के बाबूलाल चौराहे से हुई और शहर के विभिन्न चौराहों से गुजरते हुए वापस बाबूलाल चौराहे पहुंचकर समापन हुआ। इस फ्लैग मार्च के बारे में जानकारी देते हुए बांदा सीओ सिटी राजीव प्रताप सिंह ने बताया की शहर की शान्ति व्यवस्था को ठीक बनाए रखना हैं।

आगामी लोकसभा चुनाव और होली त्यौहार के मद्देनजर बांदा एसपी और जिलाधिकारी के नेतृत्व में फ्लैग मार्च निकाला गया है। जिसमे सीआरपीएफ और उनकी फाॅर्स, कोतवाली नगर और सभी चौकियों की फोर्स मौजूद रही। साथ ही बताया कि नेतृत्व में लगभग 20-25 किलोमीटर तक फ्लैग मार्च किया गया है।

बांदा पुलिस का यह प्रयास है कि आगामी त्यौहार होली व लोकसभा चुनाव सब में लोग शांति से त्यौहार मनाए किसी भी प्रकार का कहीं पर विवाद न हो, इन सब चीजों को ध्यान में रखते हुए शहर भर का जायजा लिया गया और फ्लैग मार्च निकालकर लोगों से अपील भी की गई ।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned