हवाई सफर : घरेलू यात्रियों के लिए आरक्षित होगा टर्मिनल-1

केआइए में मार्च-2021 में टर्मिनल-2 के निर्माण के बाद बदलेगा रूप

By: Ram Naresh Gautam

Published: 12 Oct 2018, 08:46 PM IST

बेंगलूरु. केम्पेगौड़ा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे (केआइए) पर टर्मिनल-2 (टी-2) का निर्माण होने के बाद मौजूदा टर्मिनल-1 (टी-1) से सिर्फ घरेलू विमानों के यात्रियों का परिचालन होगा। बेंगलूरु अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा लिमिटेड (बीआइएएल) के अनुसार मार्च-2021 में नए टर्मिनल का निर्माण हो जाएगा जिसके बाद टर्मिनल-1 से सिर्फ घरेलू आवागमन होगा। केआइए पर अंतरराष्ट्रीय और घरेलू विमानों को दो अलग अलग टर्मिनलों से संचालित करने का फॉर्मूला नई दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे की तर्ज पर होगा।

घरेलू एयरलाइनों के लिए टी 1 का इस्तेमाल करने और एक एकीकृत टर्मिनल के रूप में टी 2 को विकसित करने पीछे मूल कारण परिचालन लागत को कम करता और दक्षता में सुधार करना है। साथ ही टी-2 के रूप में यह अंतरराष्ट्रीय यात्रियों को एक टर्मिनल में सीमित करेगा जिससे एयरलाइन आवंटन के लिए अधिकतम सुविधा होगी। साथ ही यह दोनों टर्मिनलों में यातायात की मांग को संतुलित करेगा जो निकट भविष्य में कई गुणा बढने की संभावना है।

बीआइएएल के संरचना जानकारों के अनुसार टी-1 को अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के अनुरूप व्यवस्थित करने के लिए पुनर्गठन की आवश्यकता होगी। इसके लिए विशेष किस्म के टर्मिनल की आवश्यकता होती है। चूंकि टी-2 निर्माणाधीन है, इसलिए इसे अंतरराष्ट्रीय परिप्रेक्ष्य में हो रहे नए बदलावों के अनुरूप विकसित किया जाएगा। हवाई यात्रियों की संख्या में हो रही जोरदार वृद्धि को देखते हुए बीआइएएल ने टी-1 को घरेलू विमानों के परिचालन तक सीमित करने की तैयारी है।


टी-2 में होगा 'टर्मिनल इन गार्डन' का थीम
बीआइएएल के टी-2 को 'टर्मिनल इन गार्डनÓ के थीम पर विकसित किया जा रहा है। इसका डिजाइन पर्यावरण और स्थायित्व पर केंद्रित होगा, जो यात्रियों को टर्मिनल के भीतर हरित वातावरण का एहसास कराएगा। टर्मिनल के डिजाइन में प्राकृतिक प्रकाश को बढावा देना, प्राकृतिक आबोहवा के अनुरूप विकास और हरियाली युक्त परिसर का निर्माण पर मुख्य ध्यान होगा।


5.5 करोड़ सालाना यात्री लक्ष्य
दो चरणों में विकसित हो रहे टी-2 का निर्माण के बाद केआइए पर सालाना यात्री संख्या का लक्ष्य 5.5 करोड़ तक रखा गया है। यह भविष्य की जरुरतों को पूरा करने के मकसद से तैयार किया जा रहा है। पिछले सप्ताह ही निर्माण कंपनी एलएंडटी को टी-2 के पहले चरण के भवन निर्माण के लिए 3036 करोड़ का ठेका प्रदान किया गया है। पहले चरण में 2.5 करोड़ यात्री संख्या का लक्ष्य पूरा होगा जिसमें 1.6 करोड़ घरेलू यात्री होंगे जबकि 90लाख अंतरराष्ट्रीय यात्री होंगे।

Show More
Ram Naresh Gautam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned