सीएम की चेतावनी, फेरी वालों से हफ्ता वसूली नहीं करे पुलिस

सीएम की चेतावनी, फेरी वालों से हफ्ता वसूली नहीं करे पुलिस

Rajendra Shekhar Vyas | Publish: Nov, 23 2018 10:46:19 PM (IST) Bangalore, Bangalore, Karnataka, India

बड़वर बंधु योजना का शुभारंभ

बेंगलूरु. मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने फेरी वालों और फुटपाथ व्यापारियों से हफ्ता वसूलने वाले पुलिसकर्मियों को कड़ी चेतावनी दी है।

मुख्यमंत्री ने गुरुवार को यहां शहर के एपीएमसी यार्ड में फेरी वाले व छोटे व्यापारियों को ब्याज मुक्त ऋण देने की बड़वर बंधु योजना का उद्घाटन किया और लाभार्थियों को चैक वितरित किए। बाद में उन्होंने कहा कि सरकार पुलिसकर्मियों को जीवन निर्वाह के लिए तमाम जरूरी सुविधाएं देने को प्रतिबद्ध है।
उन्होंने कहा कि छोटे व्यापारियों को इस योजना का सदुपयोग कर चैन से जीवन बिताना चाहिए। बेंगलूरु शहर में 24 हजार व्यापारियों को बीबीएमपी ने परिचय पत्र जारी किए हैं। उन्होंने कहा कि राज्य में लाखों लोग सड़कों पर व्यापार कर जीवन गुजार रहे हैंै। उन्हें 2 से 10 हजार रुपए तक का ब्याज मुक्त ऋण दिया जा रहा है। इस योजना में निजी साहूकारों की तरह किसी तरह का उत्पीडऩ नहीं किया जाता। इस साल के बजट में घोषित इस योजना के तहत पहले चरण में 53 हजार लोगों को कर्ज की सुविधा मिलेगी और दूसरे चरण में इस योजना को सारे राज्य में विस्तार दिया जाएगा। इस मौके पर ऋण वसूली के मोबाइल वाहन को हरी झंडी दिखाने के बाद उप मुख्यमंत्री जी. परमेश्वर ने कहा कि गठबंधन सरकार गरीबों की सरकार है और सरकारी योजनाओं का लाभ हर व्यक्ति तक पहुंचाने के मकसद से सरकार ने छोटे व्यापारियों के लिए बड़वर बंधु योजना का शुभारंभ किया है।
सहकारिता मंत्री बंडप्पा काशमपुर ने कहा कि इस योजना के तहत 16 सहकारी बैंकों ने गरीबों को ब्याज मुक्त ऋण देने की पहल की है। आने वाले दिनों में इसे सभी जिलों में लागू किया जाएगा और जिला स्तर पर कम से एक बैंक ऋण देगा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार महिला स्व सहायता समूहों को 5 लाख रुपए तक का ब्याजमुक्त व 10 लाख रुपए तक का 3 फीसदी ब्याज पर ऋण देने की कायक योजना लागू करेगी। कार्यक्रम में स्थानीय विधायक के. गोपालय्या, विधायक मुनिरत्ना, महापौर गंगाम्बिका मल्लिकार्जुन सहित अन्य ने भाग लिया।
जीवन गरीबों, किसानों के लिए समर्पित
कुमारस्वामी ने कहा कि जब तक वे पद पर रहेंगे, किसानों और आम लोगों का जीवन संवारने के लिए काम करते रहेंगे। मुख्यमंत्री के पद पर स्थाई रूप से बैठने का भ्रम उन्हें नहीं है। मुख्यमंत्री ने कहा कि वे किसी भी दबाव और कोई समझौता किए बिना किसानों, गरीबों के संकट दूर करने के लिए काम करेंगे। गन्ना उत्पादकों की समस्या बहुत पुरानी है और वे इसे हल करने के लिए काम कर रहे हैं। उन्होंने इस बात पर आक्रोश जताया कि उन्हें इन समस्याओं के लिए जिम्मेदार ठहराया जा रहा है। इस मौके को भाजपा के खिलाफ निशाना साधने के लिए इस्तेमाल करते हुए उन्होंने कहा कि यह जनता की सरकार है, इसके बावजूद भाजपा के नेता उनके बारे में अनावश्यक बातें कर रहे हैं। उन्होंने भाजपा को विधानसभा में बहस करने की चुनौती देते हुए कहा कि वे बेलगावी अधिवेशन में बहस के लिए तैयार हूं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned