कर्नाटक : सरकारी चिकित्सकों ने वापस ली हड़ताल

  • वेतन विसंगती दूरी करने की मांग को लेकर चिकित्सक मंगलवार से हड़ताल पर थे।

By: Nikhil Kumar

Published: 18 Sep 2020, 09:54 PM IST

बेंगलूरु. कर्नाटक सरकारी चिकित्सा अधिकारी संघ (केजीएमओए) ने हड़ताल के चौथे दिन शुक्रवार को हड़ताल वापस (Karnataka Government Medical Officers' Association call off strike) ले ली। वेतन विसंगती दूरी करने की मांग को लेकर चिकित्सक मंगलवार से हड़ताल पर थे। स्वास्थ्य मंत्री बी. श्रीरामुलु ने शुक्रवार दोपहर केजीएमओए के पदाधिकारियों के साथ बैठक के बाद खुद ट्वीट कर हड़ताल समाप्ति की घोषणा की।

केजीएमओए (KGMOA) के अध्यक्ष डॉ. जी. ए. श्रीनिवास ने कहा कि सरकार ने चिकित्सकों की मांगें मान ली है। जिसके मद्देनजर हड़ताल समाप्त की गई है। मांगों की पूर्ति के लिए सरकार ने 125 करोड़ रुपए आवंटित करने का आश्वासन दिया है।

उल्लेखनीय है कि केजीएमओए के बैनर तले केंद्र सरकार स्वास्थ्य योजना के पैमाने के अनुरूप वेतन की मांग कर रहे सरकारी चिकित्सक मंगलवार से हड़ताल पर थे। केजीएमओए के अध्यक्ष डॉ. जी. ए. श्रीनिवास के अनुसार चिकित्सा शिक्षा विभाग के चिकित्सकों की तुलना में अन्य चिकित्सकों का वेतन कम है। चिकित्सा शिक्षा विभाग या केंद्र सरकार स्वास्थ्य योजना के पैमाने के अनुरूप वेतन मिलना चाहिए। केजीएमओए लंबे समय से इसकी मांग कर रहा है। चार हजार से ज्यादा चिकित्सक केजीएमओए के सदस्य हैं।

Nikhil Kumar Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned