एक विवि से यूजी तो दूसरे से पीजी करना होगा आसान

एक विवि से यूजी तो दूसरे से पीजी करना होगा आसान

Shankar Sharma | Updated: 12 Jun 2019, 11:00:58 PM (IST) Bangalore, Bangalore, Karnataka, India

प्रदेश के किसी एक विश्वविद्यालय से स्नातक (यूजी) की शिक्षा हासिल करने वाले विद्यार्थी अगर किसी और विवि से स्नातकोत्तर (यूजी) की पढ़ाई करना चाहते हैं तो उन्हें इंटर यूनिवर्सिटी कोटे के तहत उपलब्ध सीटों पर निर्भर नहीं रहना पड़ेगा।

बेंगलूरु. प्रदेश के किसी एक विश्वविद्यालय से स्नातक (यूजी) की शिक्षा हासिल करने वाले विद्यार्थी अगर किसी और विवि से स्नातकोत्तर (यूजी) की पढ़ाई करना चाहते हैं तो उन्हें इंटर यूनिवर्सिटी कोटे के तहत उपलब्ध सीटों पर निर्भर नहीं रहना पड़ेगा। कर्नाटक राज्य उच्च शिक्षा परिषद (केएसएचइसी) और उच्च शिक्षा विभाग ने इंटर यूनिवर्सिटी कोटा नियम को खत्म करने या फिर कोटे को मौजूदा दो से पांच प्रतिशत से बढ़ाकर १०-१५ प्रतिशत करने का निर्णय लिया है। दोनों विकल्पों में से एक पर केएसएचइसी जल्द अपनी मुहर लगाएगा।


उच्च शिक्षा मंत्री जीटी देवगौड़ा, उच्च शिक्षा विभाग के अतिरिक्त प्रधान सचिव अनिल कुमार सहित प्रदेश के १९ विवि के कुलपतियों ने भी इस पर सहमति जताई है।

कुमार ने बताया कि पीजी की डिग्री हासिल करने के इच्छुक ज्यादा से ज्यादा विद्यार्थियों को मन माफिक विवि में पढऩे का बराबर अवसर मिलना चाहिए। कई विवि में तो इंटर यूनिवर्सिटी कोटा दो से पांच फीसदी तक ही सीमित हैं। बेंगलूरु उत्तर विवि के कुलपति प्रो. टीडी केम्पाराजू के अनुसार इंटर यूनिवर्सिटी कोटे को खत्म नहीं कर इसे १०-१५ फीसदी तक बढ़ाने की संभावनाओं पर भी विचार जारी है। कोटा समाप्त कर मेरिट के आधार पर दाखिला देने का अर्थ है बेंगलूरु के कॉलेजों में विद्यार्थियों की भीड़।

इसे ऐसे समझें
मैसूरु विवि से यूजी की डिग्री प्राप्त कर चुका कोई विद्यार्थी अगर बेंगलूरु विवि (बीयू) से पीजी की पढ़ाई करना चाहता है तो बीयू में सीट मिलने की संभावना बेहद कम होती है।

क्योंकि ऐसे विद्यार्थियों को इंटर यूनिवर्सिटी कोटे के तहत ही आवेदन करना होता है। अधिकतम दो से पांच प्रतिशत विद्यार्थियों को ही इस कोटे का लाभ मिलता है। क्योंकि पीजी में दाखिले के लिए ज्यादातर विवि खुद के विद्यार्थियों को प्राथमिकता देते हैं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned