आवश्यक है इतिहास और इसके नायकों का सम्मान

आवश्यक है इतिहास और इसके नायकों का सम्मान

Santosh Kumar Pandey | Publish: Mar, 17 2019 07:52:42 PM (IST) Bangalore, Bangalore, Karnataka, India

इतिहासकार प्रो. एस. शट्टर ने शनिवार को बेंगलूरु विश्वविद्यालय के इतिहास विभाग की ओर से आयोजित कर्नाटक इतिहास कांग्रेस का उद्घाटन किया। उन्होंने कहा कि राष्ट्र निर्माण के रास्ते में क्षेत्रीय इतिहास आड़े नहीं आना चाहिए। इतिहास अवैज्ञानिक कथन नहीं है।

बेंगलूरु. इतिहासकार प्रो. एस. शट्टर ने शनिवार को बेंगलूरु विश्वविद्यालय के इतिहास विभाग की ओर से आयोजित कर्नाटक इतिहास कांग्रेस का उद्घाटन किया। उन्होंने कहा कि राष्ट्र निर्माण के रास्ते में क्षेत्रीय इतिहास आड़े नहीं आना चाहिए। इतिहास अवैज्ञानिक कथन नहीं है। विवि के कुलपति प्रो. केआर वेणुगोपाल ने भी इतिहास के साथ छेड़छाड़ नहीं करने का संदेश दिया। इतिहास और इसके नायकों का सम्मान जरूरी है। कर्नाटक इतिहास कांग्रेस के महासचिव प्रो. एम. मुनिराजप्पा, इतिहास विभाग की प्रमुख प्रो. एस. नागरत्नम्मा, प्रो. ए.के. शास्त्री सहित धारवाड़, कलबुर्गी, मैसूरु, दावणगेरे, तुमकूरु और शिवमोग्गा के इतिहासकारों ने भी कार्यक्रम में हिस्सा लिया।

१२३ बच्चों के दांतों की जांच
मंड्या. जिले के आनेकेरे गांव स्थित विधिया विकास स्कूल में लायंस क्लब की ओर से बच्चों के दांतों की जांच के लिए दंत चिकित्सा व जांच शिविर लगाया। डाक्टर केम्पाम्मा व उनकी टीम ने 123 स्कूली बच्चों की जांच कर दांतों की नियमित सफाई की सलाह दी। शिविर में लायंस क्लब अध्यक्ष नारायण गौड़ा, कार्यदर्शी अमरबाबू सहित स्कूल स्टाफ मौजूद रहा।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned