बाजार भाव से चार गुणा ज्यादा मुआवजा मिले

बाजार भाव से चार गुणा ज्यादा मुआवजा मिले

Ram Naresh Gautam | Publish: Sep, 04 2018 06:26:14 PM (IST) Bengaluru, Karnataka, India

भूमि अधिग्रहण को लेकर अधिकारियों को बहुत जल्दी है

बेंगलूरु. नेशनल हाइवे 206 विक्टिम स्ट्रगल कमिटी की ओर से सोमवार को तिपटूत में एनएच 206 विक्टिम्स कन्वेंशन का आयोजन किया गया।
इस अवसर पर वक्ताओं ने 'हमारी जमीन-हमारी कीमत नारेÓ के साथ हाइवे निर्माण के लिए किसी भी हालत में भूमि अधिग्रहण नहीं करने की चेतावनी दी। कन्वेंशन में कर्नाटक राज्य किसान संघ के प्रदेश सचिव बीएस देवराज, स्ट्रगल कमिटी के समन्वयक एसएन स्वामी तथा किसान कृषि कर्मकार संगठन के राज्य समिति सदस्य सी आनंद आदि मंच पर मौजूद थे।

कन्वेंशन शुरू होने से पूर्व प्रभावितों ने तिपतुर शहर में रैली निकाली और सरकार विरोधी नारे लगाए। देवराज ने कहा कि नेशनल हाइवे 206 पर तुमकुर-होन्नावर तक फोरलेन निर्माण किया जाना है। यह तुमकूरु, हासन और चिकमगलूर जिलों से होकर गुजरेगी। फोरलेन निर्माण के मद्देनजर जिले में भूमि अधिग्रहण को लेकर अधिकारियों को बहुत जल्दी है, लेकिन इस संबंध में प्रभावितों से अब तक किसी तरह की बातचीत नहीं की गई है, न ही उनकी शिकायतें सुनी जा रही हैं। उन्होंने इसके प्रति नाराजगी जताई तथा कहा गया कि जब तक जमीन, मकान और अन्य अधिगृहित जगहों के एवज में प्रभावितों के मुताबिक मुआवजा नहीं दिया जाता तथा उनके लिए वैकल्पिक व्यवस्था नहीं की जाती भूमि अधिग्रहण पूरा नहीं होने देंगे। दिया जाएगा। कहा गया कि भूमि का मुआवजा स्वयं प्रभावित तय करेंगे और उसी के अनुरूप भुगतान करना होगा। बाजार मूल्य के चार गुणा के बराबर प्रभावितों को देय होना चाहिए। इस अवसर पर नौ सूत्रीय मांग पत्र जारी किया गया।


बेटिकट बस यात्रियों से वसूला क्र 7.55 लाख जुर्माना
बेंगलूरु. कर्नाटक राज्य सड़क परिवहन निगम (केएसआरटीसी) की ओर से जुलाई में प्रदेश और निकटवर्ती राज्यों में परिचालित बसों में बिना टिकट यात्रा कर रहे यात्रियों की सघन जांच की गई। इस दौरान 40953 बसों में जांच की गई। राजस्व चोरी के 4932 मामले प्रकाश में आए। 6263 यात्रियों पर जुर्माना लगाया गया। कुल 7,55,824 रुपए जुर्माना वसूला गया। राजस्व की चोरी करने वाले कर्मचारियों की पहचान का कार्य निगम ने शुरू कर दिया है।

Ad Block is Banned