कर्नाटक कांग्रेस के नेता 13 को मिलेंगे सोनिया गांधी से

सिद्धरामय्या और गुंडूराव के इस्तीफे के बाद पार्टी के भीतर उठा-पटक

बेंगलूरु.

कांग्रेस विधायक दल के नेता पद से सिद्धरामय्या और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद से दिनेश गुंडूराव के इस्तीफे के बाद पार्टी के भीतर मचे उथल-पुथल के बीच प्रदेश कांग्रेस नेता अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से आगामी 13 दिसम्बर को नई दिल्ली में मिलेंगे। लोकसभा चुनावों के बाद विधानसभा उपचुनावों में भी मिली करारी हार के बाद सिद्धरामय्या और दिनेश गुंडूराव ने अपने-अपने पदों से इस्तीफा दे दिया था। अब सिद्धरामय्या समर्थक पार्टी का एक धड़ा जहां सोनिया गांधी से इस्तीफे स्वीकार नहीं करने के लिए लाबिंग कर रहा है वहीं एक धड़ा नेतृत्व परिवर्तन पर जोर दे रहा है।

इस बीच बुधवार को वरिष्ठ नेता एवं सात बार के सांसद केएच मुनियप्पा ने बयान दिया कि वे प्रदेश अध्यक्ष का पद संभालने के लिए तैयार हैं। मुनियप्पा और उनके समर्थक दोनों इस्तीफे तुरंत स्वीकार किए जाने और नए नेतृत्व की नियुक्ति की मांग पर अड़े हैं। सूत्रों के मुताबिक मुनियप्पा ने इस मुद्दे पर एक बैठक भी की थी जिसमें राज्य सभा सदस्य बीके हरिप्रसाद, नासिर हुसैन, जीसी चंद्रशेखर और लोकसभा सदस्य डीके सुरेश शामिल हुए। नेताओं ने बैठक के बाद यह फैसला किया कि वे सोनिया गांधी से मिलेंगे और पार्टी को फिर से खड़ा करने के लिए नेतृत्व परिवर्तन की मांग करेंगे। ये नेता प्रदेश कांग्रेस प्रभारी केसी वेणुगोपाल को भी बदलना चाहते हैं। उधर, सिद्धरामय्या समर्थक चाहते हैं कि वे पद पर बने रहें और इसके लिए भी सोनिया गांधी पर दबाव बनाने की कोशिश हो रही है।

Rajeev Mishra Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned