कर्नाटक सरकार के पास महाकुंभ में गए लोगोंं की जानकारी नहीं

  • विशेषज्ञों का कहना है मेले में शामिल होने वालों की जानकारी हरिद्वार जिला प्रशासन के पास होगी। जानकारी जुटाना सरकार की जिम्मेदारी है।

By: Nikhil Kumar

Published: 17 Apr 2021, 10:08 AM IST

बेंगलूरु. हरिद्वार महाकुंभ में गए कर्नाटक के लोगों के बारे में सरकार के पास कोई जानकारी (karnataka does not have data base of Maha Kumbh Mela participants) नहीं है। संक्रमित होकर लौटने वालों के कारण राज्य में संक्रमण फैलने की रफ्तार और बढऩे की आशंका खड़ी हो गई है।

महाकुंभ में कोविड के 1700 से ज्यादा पॉजिटिव (covid postive) मामले सामने आ चुके हैं। स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा मंत्री ने हरिद्वार महाकुंभ मेले से लौटने वाले सभी श्रद्धालुओं को आरटी-पीसीआर (RT-PCR) जांच कराने और रिपोर्ट निगेटिव आने तक होम आइसोलेशन में रहने की बात कही है। लेकिन सरकार के पास जानकारी नहीं है। लौटने वाले स्वयं अपनी जानकारी देंगे, तभी कोरोना जांच हो सकेगी। विशेषज्ञों ने मेले से लौटे संक्रमित लोगों के सुपर स्प्रैडर होने की आशंका जताई है।

विशेषज्ञों का कहना है मेले में शामिल होने वालों की जानकारी हरिद्वार जिला प्रशासन के पास होगी। जानकारी जुटाना सरकार की जिम्मेदारी है।

कोविड-19 तकनीकी सलाहकार समिति (Covid-19 Technical Advisory Committee) के सदस्य डॉ. वी. रवि ने बताया कि मेले में कोरोना वायरस के प्रसार को देखते हुए स्व-घोषणा (SELF DECLARATION) निष्प्रभावी होगी। मेला आयोजकों के पास मेले में भाग लेने वाले सभी लोगों की सूची होगी। कंपनियांं, अपार्टमेंट ऑनर्स, आवासीय कल्याण संघ व पड़ोसियों को चाहिए कि मेले में शामिल लोगों की पहचान करें। सुनिश्चित करें कि ऐसे लोग आरटी-पीसीआर जांच कराएं।

Nikhil Kumar Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned