कर्नाटक को नवाचार में पहला स्थान

तमिलनाडु व महाराष्ट्र को क्रमश: दूसरे और तीसरे स्थान पर रखा गया है।

बेंगलूरु. नीति आयोग (Niti Aayog) प्रायोजित एक रिपोर्ट में कर्नाटक (Karnataka) को नवाचार (Innovation) यानि नवोन्मेष के लिए पूरे देश में पहली वरीयता (First Ranking) वाले राज्य का दर्जा दिया गया है, जबकि तमिलनाडु व महाराष्ट्र को क्रमश: दूसरे और तीसरे स्थान पर रखा गया है।

इस रिपोर्ट में बिहार, झारखंड तथा छत्तीसगढ़ जैसे राज्यों को अंतिम स्थान पर रखा गया हैं।

वैश्विक नवाचार सूचकांक (GII) की तर्ज पर विकसित भारत नवाचार सूचकांक-2019 विभिन्न प्रदेशों में innovation की नीतियां बनाने में सहायक Innovation Ecosystem की पड़ताल करता है।

नीति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार व मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) अमिताभ कांत (Amitabh Kant) ने यह रिपोर्ट जारी की है।

यह रैंकिंग (Ranking) बड़े राज्य, North-East व पहाड़ी राज्य तथा केन्द्र शासित प्रदेश या छेटे राज्य जैसे तीन संवर्गों में की गई है। इसमें Sikkim उत्तर-पूर्व संवर्ग में प्रथम स्थान पर है, वहीं दिल्ली केन्द्र शासित प्रदेश संवर्ग में प्रथम स्थान पर रहा है।

Sanjay Kumar Kareer
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned