सुपारी मेंं लगा रोग, 5,588 किसानों को नुकसान

  • किसानों को मुआवजा देने की मांग

By: Santosh kumar Pandey

Published: 03 Mar 2021, 05:59 PM IST

बेंगलूरु. दक्षिण कन्नड़ जिले में 1217 हेक्टेयर में सुपारी (Areca nut) की फसल में रोग लग जाने से किसानों की चिंता बढ़ गई है।
कर्नाटक विकास कार्यक्रम की त्रैमासिक बैठक में अधिकारी ने बताया कि सुपारी में रोग लग जाने से 5,588 किसानों को नुकसान हुआ है। बैठक की अध्यक्षता जिला प्रभारी मंत्री कोटा श्रीनिवास पुजारी ने की।

किसानों को वैकल्पिक फसल उगाने के लिए कहा

अधिकारी ने कहा कि बीमारियों के प्रसार को रोकने के लिए कोई उपाय नहीं होने के कारण किसानों को वैकल्पिक फसल उगाने के लिए कहा गया है। किसानों ने सुपारी के विकल्प के रूप में नारियल, काजू, कोको और ताड़ की खेती में रुचि दिखाई है।

अधिकारी ने बताया कि उपायुक्त के माध्यम से वैकल्पिक फसलों और वित्तीय सहायता के लिए एक विस्तृत परियोजना रिपोर्ट सरकार को सौंपी गई थी।
चिकमगलूरु जिले की कई तहसीलों में भी सुपारी की फसल को भारी नुकसान हुआ है। पुत्तूर के विधायक संजीव मतंदूर और एमएलसी भोजे गौड़ा ने कहा कि फसल के नुकसान के लिए उत्पादकों को मुआवजा दिया जाना चाहिए।

Santosh kumar Pandey Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned