ड्रॉ के माध्यम से दिया मंगल कलश

ड्रॉ के माध्यम से दिया मंगल कलश

Ram Naresh Gautam | Publish: Nov, 10 2018 04:32:48 PM (IST) | Updated: Nov, 10 2018 04:32:49 PM (IST) Bangalore, Bangalore, Karnataka, India

लक्की ड्रा में इंदरचंद सरला बिलवाडिय़ा परिवार को यह सौभाग्य प्राप्त हुआ।

बेंगलूरु. स्थानीय गोड़वाड़ भवन में वर्धमान स्थानकवासी जैन श्रावक संघ, चिकपेट शाखा के तत्वावधान में आध्यात्मिक चातुर्मास 2018 के तहत अहिंसा समवशरण के मंच से उपाध्याय प्रवर रविंद्र मुनि एवं रमणीक मुनि की निश्रा में शुक्रवार को धर्मसभा में कार्यकारिणी सदस्य इंद्रचंद बिलवाडिय़ा को लॉटरी ड्रॉ के माध्यम से मंगल कलश प्रदान किया गया।

महामंत्री गौतमचंद धारीवाल ने बताया कि 28 दिवसीय गौतम स्वामी के महा मंगलकारी जाप के बाद निकले लक्की ड्रा में इंदरचंद सरला बिलवाडिय़ा परिवार को यह सौभाग्य प्राप्त हुआ।

ऋषि मुन्रि ने गीतिका प्रस्तुत की। चिकपेट शाखा के कार्याध्यक्ष प्रकाश चंद बम्ब, गौतमचंद कटारिया, निर्मल गुलेच्छा, केवल चंद बिलवाडिय़ा, जितेंद्र बिलवाडिय़ा, चिकपेट महिला इकाई के अध्यक्ष रंजना गुलेच्छा सहित अनेक लोगों ने बिलवाडिय़ा परिवार को यह मंगल कलश प्रदान किया। संचालन गौतमचंद धारीवाल ने किया।

---

एकता के सूत्र में पिरोते हैं पर्व
बेंगलूरु. हनुमंतनगर जैन स्थानक में साध्वी सुप्रिया ने शुक्रवार को प्रवचन में भैया दूज पर्व के विभिन्न आध्यात्मिक, पौराणिक महत्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि भारतीय संस्कृति में पर्वों का अपना अहम स्थान हे।

इन पर्व-त्योहारों के आने से सभी में एक खुशी की लहर दौड़ जाती है। मुरझाए चेहरे भी प्रसन्नता से खिल उठते हैं। पर्व हमारे भारतीय संस्कृति को एकता के सूत्र में पिरोने के साथ आपसी प्रेम, स्नेह, भाईचारे के सम्बंधों को मजबूती प्रदान करते हैं।

साध्वी सुमित्रा ने मंगलपाठ प्रदान किया। साध्वी सुविधि ने गीतिका प्रस्तुत की। संचालन संजय कुमार कचोलिया ने किया।

 

Ad Block is Banned