आईटी कर्मी की हत्या का आरोपी गिरफ्तार

Shankar Sharma

Publish: Oct, 12 2017 08:38:26 (IST)

Bangalore, Karnataka, India
आईटी कर्मी की हत्या का आरोपी गिरफ्तार

पुलिस ने मडिवाल थानांतर्गत तावरेकेरे में रविवार रात एक आईटी कर्मी की हत्या की गुत्थी सुलझा ली है

बेंगलूरु. पुलिस ने मडिवाल थानांतर्गत तावरेकेरे में रविवार रात एक आईटी कर्मी की हत्या की गुत्थी सुलझा ली है। यह हत्याकांड एक मामूली सडक़ हादसे के बाद हुई तकरार के चलते हुआ। पुलिस ने इस मामले में एक कुख्यात समाजकंटक कार्तिक को गिरफ्तार कर लिया है। उसे पकडऩे में पुलिस को दांतो तले पसीना आ गया। आरोपी ने गिरफ्तारी से बचने के लिए पुलिस पर हमला किया। जवाब में पुलिस को भी गोली चलानी पड़ी। कार्तिक पर ओडिशा के आईटी कर्मी प्रणय मिश्रा (28) की चाकू मार कर हत्या करने का आरोप है।


पुलिस के मुताबिक कार्तिक तथा उसके साथी अरुण का वाहन प्रणय के वाहन से भिडऩे पर उसका मडगार्ड क्षतिग्रस्त हो गया था। उन्होंने मरम्मत के लिए प्रणय से 500 रुपए मांगे लेकिन प्रणय ने हादसे में उसकी कोई गलती नहीं होने का तर्क देते हुए रुपए देने से इनकार कर दिया था। इस बात पर गुस्साए कार्तिक तथा अरुण ने प्रणय का पीछा किया और उसे रोक कर झगडऩे लगे। झगड़े के दौरान ही बात बढऩे पर कार्तिक और अरुण ने प्रणय पर चाकू से हमला कर दिया और वहां से फरार हो गए थे। प्रणय की मौके पर ही मौत हो गई थी।


जांच के लिए गठित विशेष जांच दल ने सीसीटीवी में कैद फुटेज के आधार पर कार्तिक को गिरफ्तार किया था। इस कार्रवाई के दौरान कार्तिक ने पुलिस पर हमले का प्रयास किया तो पुलिस ने उस पर फायर कर दिया। फायरिंग में घायल कार्तिक को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। प्रणय पर हमले में शामिल कार्तिक के साथी अरुण को पुलिस तलाश कर रही है।

जाली नोट चलाने का प्रयास करने वाला गिरफ्तार
शहर अपराध जांच शाखा पुलिस ने बुधवार को जाली नोट चलाने का प्रयास कर रहे एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया। पुलिस के मुताबिक आरोपी एस.भास्कर के पास 500 के 91 तथा 2000 के 37 कुल 1 लाख 19 हजार 500 रुपए मूल्य के नकली नोट मिले। आरोपी भास्कर कमर्शियल स्ट्रीट पर मारुति वैन में बैठकर जाली करंसी चलाने की कोशिश कर रहा था।


सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने जाली नोट चलाने के लिए ग्राहकों का इंतजार कर रहे भास्कर को रंगे हाथ पकड़ लिया। भास्कर के खिलाफ कमर्शियल स्ट्रीट थाने में मुकदमा दर्ज कर जांच चल रही है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned