कन्नड़ नहीं बोलने के फरमान पर जांच के आदेश

स्कूल परिसर में छात्रों को कन्नड़ बोलने की दी गई थी हिदायत

बेंगलूरु.
शहर के एक निजी विद्यालय ने अपने विद्यार्थियों को कन्नड़ में बातचीत नहीं करने का कथित फरमान जारी कर विवादों में घिर गया है। कर्नाटक सरकार ने इस मामले की जांच के आदेश दिए हैं।
यहां चन्नसंद्रा के इंटरनेशनल स्कूल ने विद्यार्थियों एवं उनके अभिभावकों के लिए विद्यालय परिसर में कन्नड़ में बातें नहीं करने का हाल ही में कथित रूप से आदेश जारी किया था। उसने चेतावनी दी कि कन्नड़ भाषा में बातचीत करते हुए पाए जाने पर विद्यार्थियों पर शुरू में 50 रूपए जुर्माना लगाया जाएगा और बाद में जुर्माना दोगुना हो जाएगा।
कुछ अभिभावकों ने यह मामला राज्य के प्राथमिक एवं माध्यमिक शिक्षा मंत्री एस. सुरेश कुमार के संज्ञान में लाया। अभिभावकों ने उन्हें इस आदेश की प्रतियां सौंपी और उन्हें राज्य की भाषा का विद्यालय प्रबंधन द्वारा कथित रूप से अपमान किए जाने से उन्हें अवगत कराया। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि मंत्री ने अपने विभाग के प्रधान सचिव को इस मामले की जांच कराने और कार्रवाई रिपोर्ट सौंपने के लिए पत्र लिखा है।

Rajeev Mishra Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned