मजबूत संकल्प शक्ति वाले को नहीं डिगा सकता कोई

भवांत मुनि, जयवंत मुनि ने तपस्वियों के प्रति आभार ज्ञापित किया। विजेताओं को पुरस्कार प्रदान किए

By: Ram Naresh Gautam

Published: 04 Oct 2018, 04:19 PM IST

मैसूरु. स्थानकवासी जैन संघ के तत्वावधान में सिटी स्थानक में डॉ समकित मुनि ने संकल्प शक्ति की व्याख्या करते हुए कहा कि जिसकी संकल्प शक्ति मजबूत होती है, उसे कोई भी डिगा नहीं सकता है। नंदीषेण भी ऐसे ही थे, जो एक मुनि बनकर विचरण करते थे, लेकिन अनजाने में गणिका के घर प्रवेश कर गए और भोगावली कर्म शेष रहने के कारण वे उस गणिका के साथ जीवन जीने लग। हालंाकि उनका संकल्प था कि प्रतिदिन 10 व्यक्तियों को धर्म बोध देकर ही में अन्न जल ग्रहण करूंगा। भवांत मुनि, जयवंत मुनि ने तपस्वियों के प्रति आभार ज्ञापित किया। विजेताओं को पुरस्कार प्रदान किए। अध्यक्ष कैलाशचंद बोहरा ने स्वागत किया।

 

मैसूरु शाखा को प्रथम पुरस्कार
मैसूरु. अखिल भारतीय राजेंद्र जैन नवयुवक परिषद मैसूरु शाखा के दल ने उज्जैन में आचार्य विजय नित्यसेन सूरीश्वर व अन्य संतों की निश्रा में संपन्न परिषद परिवार नवयुवक, महिला, बहु व तरुण मंडल के संयुक्त राष्ट्रीय सम्मेलन में भाग लिया। इसमें जीवदया क्षेत्र में प्रथम पुरस्कार मैसूरु शाखा के अध्यक्ष अमृतलाल राठौड़, सचिव शैलेश धोकड़, सदस्य अशोक वोरा, मंगलचंद झोटा, अशोक गोवाणी को प्रदान किया गया।

 

बाल अधिकार विषय पर दो दिवसीय प्रशिक्षण आज से
बेंगलूरु. बॉस्को के चाइल्ड राइट एजुकेशन एंड एक्शन मूवमेंट(क्रीम) प्रोजेक्ट के तहत गुरुवार सक दो दिवसीय प्रशिक्षण चामराजपेट स्थित बॉस्को मेन कार्यालय में शुरू होगा। क्रीम प्रोजेक्ट के समन्वयक रामास्वामी ने बताया कि प्रशिक्षण सुबह 9.30 से शाम 4.30 बजे तक होगा। उन्होंने बताया कि प्रशिक्षण के दौरान झोंपड़ पट्टी क्षेत्रों में संचालित विद्यालयों, संस्थाओं व सामुदायिक संगठनों को बाल अधिकार, बच्चों से निरंतर बात करने, बच्चों संबंधित मुद्दों, बाल विवाह, बाल श्रम सहित अनेक विषयों की जानकारी दी जाएगी।

 

हेलमेट जागरूकता के लिए निकाली बाइक रैली
मण्ड्या. शहर में पुलिस कचहरी भवन से बुधवार को दुपहिया वाहन चालकों को हेलमेट के प्रति जागरूक करने के लिए जिला पुलिस ने बाइक रैली निकाली। जिला पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी शिवकुमार देवराज ने बाइक रैली को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। उन्होंने कहा कि लोगों को दुपहिया वाहन चलाते समय हेलपेट पहनना चाहिए। ताकि दुर्घटना के समय सिर को बचाया जा सके। अधिकांश मौतें सिर में गहरी चोट लगने से होती हैं।

Show More
Ram Naresh Gautam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned