जागरुकता अभियान के लिए निकले तहसीलदार का निधन

मालूर के तहसीलदार के. मुनिराजू (५६) का हृदयघात से शुक्रवार सुबह निधन हो गया।

By: Santosh kumar Pandey

Published: 27 Mar 2020, 08:05 PM IST

कोलार. मालूर के तहसीलदार के. मुनिराजू (५६) का हृदयघात से शुक्रवार सुबह निधन हो गया। मुनिराजू बेंगलूरु के कृष्णाराजपुरम से मालूर
जाते थे। शुक्रवार सुबह मालूर में कोरोना से संबंधित जागरुकता अभियान चलाने के लिए वे घर से निकल रहे थे तभी उनको दिल का दौरा पड़ा। वह गत १५ दिनों से मालूर के विधायक के.वाई नंजेगौड़ा और अन्य सरकारी कर्मचारियों के सहयोग से कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए नागरिकों में जागरुकता अभियान चला रहे थे।

बता दें कि मुनिराजू का तीन माह पहले ही मालूर तबादला हुआ था। उन्होंने तहसीलदार कार्यालय में कई सालों से लंबित मुकदमों को निपटाने और किसानों की समस्याओं को हल करने के उद्देश से हर सप्ताह जनता अदालत आयोजित किया था जिसकी वजह से वह कुछ ही दिनों में लोकप्रिय हो गए थे। उन्होंने केवल दो माह की अवधि में ६५ हजार मामलों को निपटाया था। किसानों और आम नागरिकों को बार-बार सरकारी कार्यालयों के चक्कर लगाने पर अंकुश लगाते हुए निर्धारित समय केअंदर काम करने का वादा कर इसे पूरा किया था। मुनिराजू के निधन पर नागरिकों ने शोक प्रकट किया।

उनके निधन पर राजस्व मंत्री आर.अशोक, कोलार की जिलाधिकारी सत्यभामा, पुलिस अधीक्षक कार्तिक रेड्डी और अन्य अधिकारियों ने भी शोक प्रकट किया है।

Santosh kumar Pandey Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned