व्यवहार में हो मधुर वाणी का प्रयोग

व्यवहार में हो मधुर वाणी का प्रयोग

Santosh Kumar Pandey | Updated: 15 Jun 2019, 07:47:02 PM (IST) Bangalore, Bangalore, Karnataka, India

तेरापंथ सभा भवन में तेरापंथ महिला मंडल के तत्वावधान में मुनि अमृत कुमार के सान्निध्य में शुक्रवार को सीख लें अगर हम रिश्तों की अहमियत खुशहाल, होगी हर पीढ़ी विषयक कार्यशाला आयोजित की गई। मुनि अमृत कुमार ने कहा कि भगवान महावीर स्वामी के सिद्धांत में बताया कि हम सबको मधुर वाणी और विनम्रता का प्रयोग करना चाहिए।

मंड्या. तेरापंथ सभा भवन में तेरापंथ महिला मंडल के तत्वावधान में मुनि अमृत कुमार के सान्निध्य में शुक्रवार को सीख लें अगर हम रिश्तों की अहमियत खुशहाल, होगी हर पीढ़ी विषयक कार्यशाला आयोजित की गई।
मुनि अमृत कुमार ने कहा कि भगवान महावीर स्वामी के सिद्धांत में बताया कि हम सबको मधुर वाणी और विनम्रता का प्रयोग करना चाहिए।

व्यक्ति को कुशल व्यवहार, रिश्तों व परिवार के लोगों के साथ तालमेल बिठाना चाहिए। संत ने कहा कि गलती होने पर क्षमा मांगकर और अच्छा कार्य करने वाले व्यक्ति का आभार व्यक्त करना चाहिए। महिला मंडल अध्यक्ष किरण भंसाली ने कहा कि आज के समय रिश्तों में दूरियां कम होती जा रही है। एक समय संयुक्त परिवार होता था। अब एक पीढ़ी का रहना भी मुश्किल होने लगा है। पुष्पा बाफना ने कहा कि संयुक्त परिवार के पारम्परिक रिश्तों और आज के रिश्तों के बीच प्यार में अंतर आ गया है।

अणुव्रत समिति अध्यक्ष विनोद भंसाली कहा कि परिवार आपसी तालमेल बैठाकर हमें एक साथ रहने की कोशिश करनी चाहिए। संयुक्त परिवार में कोई भी समस्या आने पर हम मिलकर सुलझा लेंगे। चंदनमल बोहरा ने भी विचार व्यक्त किए। संचालन मंत्री पूनम बोहरा किया।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned