दिनदहाड़े धारदार हथियार से युवक की हत्या, चार आरोपी गिरफ्तार

घटनास्थल से २० किमी दूर पुलिस ने फायरिंग कर आरोपियों को पकड़ा, भाजपा ने की एनआईए से जांच की मांग

मेंगलूरु. कुछ दिन पहले हुए विवाद को लेकर चार युवकों ने धारदार हथियार से वार कर बुधवार को दिनदहाड़े दक्षिण कन्नड़ जिले के सूरतकल में एक २८ वर्षीय युवक की हत्या कर दी। संघ परिवार के संगठन से जुड़े युवक की दिनदहाड़े हुई हत्या को लेकर इलाके में तनाव उत्पन्न हो गया जिसे देखते हुए अतिरिक्त पुलिस बल को तैनात किया गया है। इस बीच, कुछ संगठनों ने जिले के कुछ इलाकों में गुरुवार को बंद का आह्वान किया है।
युवक की हत्या के कुछ ही देर बाद पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए घटनास्थल से करीब २० किमी दूर मूडबिदरी के पास मिजरे से चार युवकों को फायरिंग कर गिरफ्तार कर लिया।
पुलिस के अनुसार काटिपाल्या के कैकंबा क्षेत्र का निवासी दीपक राव (३२) एक मोबाइल फोन की दुकान में काम करता था। बुधवार दोपहर वह बाइक पर कृष्णपुर-काटिपाल्या रोड से जा रहा था। मडाई कोडी काटिपाल्या सर्कल के पास एक कार में सवार चार लोगों ने दीपक राव का रास्ता रोका और उस पर तलवार और चाकू से हमला कर गंभीर रूप से जख्मी कर दिया। दीपक को निजी अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सक ने उसकी जांच कर मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने सूचना पाकर आरोपियों की कार का पीछा किया और फायरिंग की। पुलिस ने कार में सवार चारों आरोपियों को गिरफ्तार किया, जिसमें से एक आरोपी घायल हो गया।
बताया जाता है कि दीपक राव एक संगठन का कार्यकर्ता था। बुधवार दोपहर एक निजी अस्पताल में शव का पोस्टमार्टम हुआ। संगठन के सैकड़ों कार्यकर्ता अस्पताल के सामने एकत्रित हुए। सांसद नलिन कुमार कटील ने इस मामले की जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) से कराने की मांग की है। इस वारदात के बाद घटनास्थल के पास स्थित दुकानों और आसपास के क्षेत्रों में व्यापार प्रतिष्ठानों को बन्द करा दिया गया। मेंगलूरु के पुलिस आयुक्त टी आर सुरेश ने एहतियाती तौर पर पुलिस की सुरक्षा बढ़ा दी है। रात में गश्ती भी तेज कर दी गई।
इस बीच भाजपा ने मामले की जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी( एनआईए) से जांच करवाने की मांग की है। भाजपा नेता आर अशोक व प्रवक्ता अश्वथनारायण ने बुधवार को जारी एक बयान मेंउन्होंने आरोप लगाया कि राज्य सरकार इस तरह की हत्याओं को सामान्य घटनाओं के तौर पर ले रही है, जिसकी वजह से आए दिन इस तरह की वारदातें हो रही हैं। सरकार स्पष्ट करे कि दक्षिण कन्नड़ जिले में मुख्यमंत्री के दौरे के पहले व बाद में ही इस तरह की घटनाएं क्यों रही हैं। यह कोई संयोग है या किसी सोची समझी साजिश। उन्होंने मृतक दीपक राव के परिजनों को मुआवजा दिए जाने तथा हत्या की नैतिक जिम्मेदारी लेकर जिला प्रभारी मंत्री रमानाथ रई तथा गृहमंत्री रामलिंगा रेड्डी के इस्तीफे की मांग की है।

BJP
कुमार जीवेन्द्र झा Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned