बांसवाड़ा नगर परिषद बोर्ड की बैठक : भाजपा व कांग्रेस के पार्षदों में जमकर बहस, सभापति ने पेश किया 104.45 करोड़ का बजट

Banswara City Council : कब्रिस्तान की चारदीवारी निर्माण के मामले पर मचा हंगामा

By: Varun Bhatt

Published: 21 Feb 2021, 03:08 PM IST

बांसवाड़ा. नगर परिषद बंसवाड़ा की ओर से वित्तीय वर्ष 2021-22 के बजट को लेकर साधारण सभा शनिवार को पं. दीनदयाल उपाध्याय सभागार में हुई। इसमें शहर के डूंगरपुर मार्ग पर स्थित लखारा समाज के कब्रिस्तान की चारदीवारी निर्माण का मामला उठने पर जमकर हंगामा मचा। भाजपा और कांगे्रस के पार्षद आमने-सामने हो गए। जैसे-तैसे समझाइश पर मामला शांत हुआ। इससे पहले सभापति ने 104.45 करोड़ का बजट पेश किया, जिसका अनुमोदन किया गया। जनजाति क्षेत्रीय विकास राज्यमंत्री अर्जुनसिंह बामनिया के मुख्य आतिथ्य और सभापति जैनेन्द्र त्रिवेदी की अध्यक्षता में आयुक्त ने बैठक आरंभ की। आरंभ में सभापति ने बजट पेश किया। इसके बाद बैठक में उस समय हंगामा शुरू हुआ, जब भाजपा पार्षद दीपक जोशी ने कब्रिस्तान की चारदीवारी का मामला उठाते हुए कहा कि 40 साल से लोग रह रहे हैं। आवागमन के लिए रास्ता छोड़कर चारदीवारी बनाई जाए। मामले में पूर्व राज्यमंत्री भवानी जोशी सहित 40 लोगों के खिलाफ पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया, जबकि विवाद के दौरान मौके पर उपस्थित कुछ लोगों को छोड़ दिया। इस पर मुकेश जोशी व देवबाला राठौड़ ने एजेंडे से अलग विषय उठाने पर आपत्ति जताई तो दीपक जोशी ने बोलने से रोकने का आरोप लगाया। इसके साथ ही दोनों ही पक्षों के पार्षद आमने-सामने हो गए। जोर-जोर से बोलने और हाथ उठाकर अपनी बात रखने के चलते आपसी झड़प जैसी स्थिति बन आई। भाजपा के जोशी ने कांगे्रस के जोशी पर दादागिरी करने की बात करते हुए पूछा कि आमजन की बात उठाई है तो आपत्ति क्यों है। इस दौरान भाजपा व कांगे्रस के पार्षद मंच के आगे एकत्र हो गए और करीब दस मिनट तक हंगामा चलता रहा। कुछ पार्षद समझाइश में भी जुटे। वहीं मुस्लिम समुदाय के भी कुछ पार्षदों ने भी विरोध किया।

व्यवसायिक कॉम्प्लेक्स को मिली स्वीकृति
सभापति त्रिवेदी ने बजट पेश कर बताया कि पं. दीनदयाल भवन के स्थान पर व्यवसायिक कॉम्प्लेक्स के निर्माण की राज्य सरकार से स्वीकृति मिल गई है। दुकानों का विक्रय नियमानुसार नीलामी से किया जाएगा। खांदू कॉलोनी व हाउसिंग बोर्ड में सब्जी मंडी को प्राथमिकता दी जाएगी। राज्यमंत्री व कलक्टर के सहयोग से रोड स्वीपर मशीन के लिए 40 लाख रुपए मिले हैं। स्वच्छता के लिए बांसवाड़ा सिंटेक्स ने 25 लाख रुपए की राशि दी है। उन्होंने बताया कि 2021-22 में सड़क व पुल पर पांच सौ लाख, प्रकाश व्यवस्था पर बीस लाख, नाली निर्माण पर दो सौ लाख, पार्क विकास पर डेढ़ सौ लाख, कुशलबाग मैदान विकास व स्टेडियम पर चार सौ लाख, पार्किंग पर दो सौ लाख, सब्जीमंडी पर तीन सौ लाख, एसबीएम के तहत डीएमएफटी द्वारा चार सौ लाख रुपए व्यय करने का प्रावधान है। सभी वार्डों में पार्क के लिए आरक्षित भूमि पर चारदीवारी, पौधरोपण, पेयजल, बिजली व बैठक व्यवस्था की जाएगी। अंबामाता मार्केट का भूतल सहित दो मंजिला कॉम्प्लेक्स बनाया जाएगा, जिस पर छह करोड़ रुपए व्यय होंगे।

यह बोले राज्यमंत्री
राज्यमंत्री बामनिया ने कहा कि सीवरेज व पेयजल लाइन के कार्य की ड्राइंग प्रदर्शित करें ताकि संशय दूर हो। लाइन के लेवल का भौतिक सत्यापन किया जाए। यदि कहीं कार्य शेष रहेगा तो दस प्रतिशत कार्य की स्वीकृति दी जाएगी। शहर विकास व सौन्दर्यीकरण पर जोर देते हुए उन्होंने बताया कि ठीकरिया और डायलाब से आगे सड़क को फोरलेन बनाने के प्रस्ताव लोक निर्माण विभाग के मुख्य अभियंता को भेजे हैं। कागदी का सीमांकन कराया गया है। पांच मीटर रोड प्रस्तावित है। पिछोला की तर्ज पर विकास करेंगे। उन्होंने समाईमाता मंदिर के सौन्दर्यीकरण के लिए पार्षदों को रविवार सुबह आठ बजे आने को कहा। साथ ही बताया कि राजतालाब के विकास के लिए ढाई करोड़ के प्रस्ताव सरकार को भेज दिए हैं।

सीवरेज व पानी की लाइन डलेगी
बैठक में उपस्थित आरयूआईडीपी के अधिशासी अभियंता मनीष अरोड़ा ने बताया कि पूर्व में शहर में सीवरेज लाइन डाली गई थी। उन्होंने वार्ड एक, 11, 14, 21, 22, 27, 28, 29 और इनके कुछ भागों में 92 किमी की सीवरेज व पेयजल की लाइन डाले जाने की जानकारी देते हुए बताया कि शहरभर में 330 किमी की लाइन डाली जाएगी। वर्तमान में शहर में सर्वे किया जा रहा है। इसमें जो मार्ग व गलियां छूट गई हैं, उन्हें भी सम्मिलित किया जाएगा। इस दौरान राकेश सेठिया ने कहा कि लाइन का लेवल सही रखा जाए। पूर्व में डाली लाइन से पानी रिवर्स आ रहा है।

कहां गए पात्र अभ्यर्थी?
पार्षद मुकेश जोशी और मनीष त्रिवेदी ने सफाईकर्मियों की भर्ती का मामला उठाया। जोशी ने कहा कि 2012 की भर्ती के पात्र आवेदकों की पुरानी सूची को शामिल कर नई प्रक्रिया शुरू की जाए। त्रिवेदी ने कहा कि 2012 में जिन अभ्यर्थियों को पात्र घोषित किया, वह गत भर्ती में अपात्र कैसे हो गए। अधिकारियों ने मनमजी से सूची जारी कर दी है। पुराने पात्र लोग कहां गए। पूर्व के पात्र अब ओवरएज हो गए हैं। तकनीकी खामी को दूर किया जाए। साथ ही 145 रिक्त पदों को भरने के लिए सरकार को लिखें।

यह विषय भी उठे
सभापति ने शहर में सफाई व्यवस्था के लिए पांच पार्षदों की समिति बनाने का प्रस्ताव रखा, जिस पर यह सुझाव दिया कि पांच जोन में शहर विभाजित कर संबंधित पार्षदों को सम्मिलित करें जो सफाई संबंधी समस्याओं के समाधान का कार्य करें। पार्षद युगल उपाध्याय ने रातीतलाई में सार्वजनिक उपयोग के लिए सामुदायिक भवन निर्माण की मांग की। योगेश जोशी ने कहा कि विद्युत नगर के सामने तिराहे पर शहीद हर्षित भदोरिया की प्रतिमा लगे। मेहबूब खान ने राजतालाब के जीर्णोद्धार की मांग उठाई। महावीर बोहरा और चंकी शाह ने प्रतीक्षालय मामले में निजी संस्था की ओर से परिषद को कम और स्वयं अधिक लाभ उठाने पर अनुबंध समाप्त करने की मांग की। जाहिद अहमद सिंधी ने तेजाजी मंदिर से अब्दुल्ला पीर तक सड़क के चौड़ाईकरण की मांग की। सज्जनसिंह राठौड़ ने 17 सूत्री मांग पत्र दिया, जिसमें वार्डों में होमगार्ड लगाने, पार्षद मद में दस-दस लाख रुपए देने व वाल्मीकि समाज के परिवार के एक सदस्य को परिषद में नौकरी देने की मांग की। धर्मेंद्र तेली ने सफाईकर्मियों को आईडी कार्ड, नैपलीन देने व ड्रेसकोड लागू करने की बात कही। भरत जोशी ने परिषद की ओर से नोटिस देने के बाद भी राजराजेश्वर परिसर में चल रहे निर्माण कार्य को तत्काल रुकवाने की मांग की।

Show More
Varun Bhatt
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned