बांसवाड़ा : गैस सिलेण्डरों के वितरण में लापरवाही, आबादी क्षेत्रों में वाहनों की आवाजाही से लोगों की सुरक्षा दरकिनार, हादसे का खतरा

बांसवाड़ा : गैस सिलेण्डरों के वितरण में लापरवाही, आबादी क्षेत्रों में वाहनों की आवाजाही से लोगों की सुरक्षा दरकिनार, हादसे का खतरा

Ramkaran Katariya | Publish: Jul, 26 2019 04:20:35 PM (IST) Banswara, Banswara, Rajasthan, India

gas cylinder distribution : आबादी क्षेत्र के व्यस्त मार्ग पर घंटों खड़े रहते हैं वाहन, दुर्घटना ग्रस्त होने और आग की चपेट में आने का मंडराता है खतरा

बांसवाड़ा. शहर में गैस सिलेण्डरों के वितरण के काम में लापरवाही बरती जा रही है। सिलैण्डरों की होम डिलवरी में लगे वाहनों को व्यस्ततम मार्ग पर जहां मर्जी में आया खड़ा किया जा रहा है और इन वाहनों के आग की चपेट में आने की स्थिति में लोगों पर खतरा मंडरा सकता है, लेकिन जिम्मेदार एजेंसियों और प्रशासन का इस ओर कोई ध्यान नहीं है।

नियम दरकिनार
नियमानुसार गैस सिलेण्डरों से भरा वाहन उपभोक्ताओं को होम डिलवरी के दौरान ही आबादी में प्रवेश कर सकता है। व्यस्ततम मार्गों के पास खड़े नहीं कर सकते। यदि गैस एजेंसी का कार्यालय हो तो भी कार्मिक उपभोक्ताओं की बुकिंग पर्चियां लेते समय वाहन को तो सुरक्षित स्थान पर ही खड़ा रखना होता है, लेकिन कतिपय गैस एजेंसियां नियमों की अनदेखी कर रही है। गैस सिलेण्डरों से ठसाठस भरे वाहन सडक़ मार्गों पर कतारबद्ध खड़े देखे जा सकते हैं। वाहन घंटों तक ये खड़े रहते हैं। व्यस्ततम मार्ग पर आते-जाते वाहनों के भिड़ जाने या किसी वजह से आग के संपर्क में आने पर हादसे का खतरा तो रहता ही है।

पुलिस के रवैए के खिलाफ ऑटो चालक उखड़े, मनमानी वसूली का लगाया आरोप, संचालन बंद कर जताया आक्रोश

हर रोड पर ऐसा नजारा
गैस सिलेण्डरों से भरे वाहन व्यस्ततम दाहोद रोड, रतलाम रोड, जयपुर रोड, उदयपुर रोड, डूंगरपुर-प्रतापगढ़ रोड खड़े दिखते हैं तो कॉलोनी के चौराहों, तिराहों एवं नुक्कड़-मोड़ पर भी खड़े रहते हैं।

अवैध रिफलिंग भी जोरों पर
शहर में घरेलू गैस की अवैध रूप से रिफलिंग का धंधा भी जोरों पर है। कारों के लिए एवं पेट्रोमेक्स आदि में शहर के कई क्षेत्रों में अवैध रूप से गैस भरने का धंधा फलफूल रहा है। इस स्थिति से भी कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है।

बांसवाड़ा : चलती बस में अचानक लगी भयानक आग, 10 मिनट में जलकर हो गई खाक, लोगों ने भागकर बचाई जान

यह होती है मात्रा
गैस सिलेण्डरों की करीब चार श्रेणियां है। इनमें घरेलू गैस में फुल साइज, आधी साइज, पेट्रोमेक्स और कॉमर्शियल। घरेलू गैस फुल साइज सिलेण्डर में 14.2 किलो गैस होती है। वहीं वाणिज्यक सिलेण्डर में 19 किलो गैस होती है।

सडक़ों पर सिलेण्डर भरे वाहन खड़े रखना गलत
गैस सिलेण्डरों से भरे वाहन होम डिलवरी के लिए ही प्रवेश कर सकते हैं। यदि आबादी एवं व्यस्ततम मार्गों या उनके किनारे पर खड़े रखे जाते हैं तो नियम विरूद्ध है। जांच कर कार्रवाई अमल में लाएंगे।
सोहनसिंह प्रवर्तन निरीक्षक रसद विभाग, बांसवाड़ा

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned