बांसवाड़ा : उल्टी-दस्त का भोपे से कराया उपचार, मासूम की तबीयत बिगड़ी, गंभीर हालत में एमजी अस्पताल में भर्ती

फिर सामने आई भोपों से इलाज की घटना, घाटोल क्षेत्र का मामला

By: Ashish vajpayee

Published: 27 Apr 2018, 01:30 PM IST

बांसवाड़ा : उल्टी-दस्त का भोपे से कराया उपचार, मासूम की तबीयत बिगड़ी, गंभीर हालत में एमजी अस्पताल में भर्ती
फिर सामने आई भोपों से इलाज की घटना, घाटोल क्षेत्र का मामला
बांसवाड़ा. जिले के घाटोल क्षेत्र में तीन साल के बालक को उल्टी दस्त के उपचार के लिए परिजन भोपे के पास लेगए, और तबीयत बिगड़ी तब अस्पताल पहुंचे। घाटोल क्षेत्र के पढ़ारा गांव के तीन वर्षीय रोहित पुत्र रमेश को की दो दिनों से उलटी की शिकायत थी।

परिजनों ने बताया कि तबियत बिगडऩे पर उसे सुबह भोपे के पास ले गए जहां बच्चे पर झाड़ फूंक किया गया और धागे बंधवाए गए, लेकिन उसकी तबीयत में कोई सुधार नही हुआ बल्कि शाम तक तबीयत ज्यादा बिगड़ गई। जिसके बाद उसे घाटोल सीएचसी ले गए और वहां से बांसवाड़ा रैफर कर दिया गया।

शराब के अवैध मयखानों पर देर रात पुलिस की दबिश
बांसवाड़ा. शहर भर में अलग-जगह जगहों पर संचालित अवैध ढाबों के खिलाफ गुरुवार रात पुलिस की दबिशें हुईं। इस दरम्यान पुलिस ने नौ जनों को डिटेन करते हुए वहां से बड़े पैमाने पर शराब जब्त करने की कार्रवाई की। कोतवाली थाना प्रभारी ने बताया कि शहर में गत कुछ दिनों से अवैध ढाबों के संचालन तथा वहां अघोषित रूप से शराब बिक्री के साथ सेवन करने की सूचनाएं मिल रही थीं। इसकी जानकारी पर गुरुवार रात पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर पुलिस की अलग-अलग टीमें बनाई गईं, जिन्होंने शहर में कागदी पिकअप वियर, प्रताप सर्किल, डूंगरपुर रोड सहित अन्य कई ढाबों दबिशें दीं।

पुलिस को देख नशा उतरा
इस दरम्यान जैसे ही पुलिस की गाडिय़ां ढाबों पर पहुंची तो वहां शराब का सेवन करने वाले दौड़ पड़े। इसके चलते उनकी शराब की बोतलें, वाहन एवं अन्य सामान वहीं छूट गया। जबकि कुछ लोग तो अपने वाहनों एवं वाहनों की चाबियों को भी वहीं टेबिलों पर छोडकऱ रफूचक्कर हो गए।

Show More
Ashish vajpayee
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned