तिहरे हत्याकांड के सहआरोपी की गोली मारकर हत्या, फैली सनसनी

Murder In Rajasthan, Shootout In Banswara : बाइक पर सवार होकर आए तीन लोग, एक जने ने पन्नालाल को मारी गोली, पुलिस ने नाकाबंद करवाकर आरोपियों की तलाश शुरू की

By: Varun Bhatt

Updated: 20 Jul 2020, 01:06 PM IST

बांसवाड़ा. शहर में तिहरे हत्याकांड के एक सहआरोपी की रविवार देरशाम दुपहिया वाहन सवार तीन लोगों ने अचानक करीब पहुंचकर गोली मारकर हत्या कर दी। वारदात तिहरे हत्याकांड के बाद से चल रही रंजिश के चलते होना बताई गई। देर रात कोतवाली में इस संबंध में रिपोर्ट दी गई। पुलिस ने नाकाबंदी करवाकर आरोपियों की तलाश शुरू की। पुलिस के अनुसार वारदात रात करीब आठ बजे यहां श्रीराम कॉलोनी के सरगड़ावाड़ा निवासी 45 वर्षीय पन्नालाल पुत्र हीरालाल सरगड़ा के साथ हुई, जो देरशाम को राजतालाब के पास अपने सर्विस सेंटर के पीछे खेत पर था। अचानक दुपहिया वाहन सवार तीन लोग आए और एक जने ने उसे गोली मार दी। गोली पन्नालाल के पीठ में लगी, जिससे वह बुरी तरह घायल हो गया। बाद में अस्पताल में उसकी मृत्यु हो गई।

इधर, इसकी जानकारी पर परिजन मौके पर पहुंचे ओर गंभीर घायल प्रौढ़ को एमजी अस्पताल ले गए। इत्तला पर डीएसपी अनिल मीणा, एसडीओ पीएस चुंडावत भी अस्पताल पहुंचे। चिकित्सकों ने कुछ देर में पन्नालाल को मृत घोषित कर दिया, तो शव तत्काल मोर्चरी में रखवाया गया। बाद में डीएसपी मीणा और सीआई भैयालाल ने मौका मुआयना किया। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। पुलिस अधीक्षक कावेंद्रसिंह सागर ने बताया कि वारदात कर भागे आरोपियों की धरपकड़ के लिए जिले में नाकाबंदी करवाई गई है। पुलिस को इनपुट मिला है, जिसके आधार जांच कर रहे हैं। गौरतलब है कि 2018 में संपति को लेकर पन्नालाल के बेटों का शहर में समुदाय विशेष के कुछ युवकों से विवाद चला, जिसके चलते पूर्व में जिला मुख्यालय के महात्मा गांधी परिसर में तीन जनों की हत्या कर दी थी। मामले में पन्नालाल के बेटे अभी भी जेल में है, जबकि जमानत पर बाहर आने के बाद दूसरे पक्ष ने पहले भी इस पर हमला किया था। इसके चलते वह अस्पताल में भर्ती भी रहा। उसके बाद अब फिर हमला हुआ और हत्या हो गई।

बांसवाड़ा : सात लाख के आंकड़े और डेढ़ लाख की नकदी के साथ 21 जुआरी पकड़े, 22 गाडिय़ा भी बरामद

अस्पताल में उमड़ी भीड़, आक्रोश भी
घायल पन्नालाल को अस्पताल ले जाने पर जानकारी आग की तरह शहर में फैली तो बड़ी संख्या में लोग पहुंचे। यहां लोगों ने गोलीकांड पर आक्रोश भी व्यक्त किया। मृतक की रिश्तेदार पेमादेवी ने बताया कि वह अपने परिजनों के साथ घर थी। तभी भतीजी दौड़ती हुई आई और उसने दुपहिया वाहन पर आए युवकों द्वारा गोली मारने की जानकारी दी। यहां पूर्व मंत्री भवानी जोशी ने समाजकंटकों के इस कृत्य पर पुलिस से तत्काल कार्रवाई कर आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की। साथ ही चेताया कि जल्द धरपकड़ नहीं होने पर मंगलवार को बांसवाड़ा बंद का आह्वान किया जाएगा। इधर, एसडीएम चुंडावत ने पत्रकारों को बताया कि जमानत पर छूटे पन्नालाल की हत्या के मामले में जांच करवाकर सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कोविड-19 कंट्रोल में मिले जनसहयोग का जिक्र कर शहरवासियों से अपील की कि वे भरोसा रखकर शांति व्यवस्था बनाए रखने में सहयोग करें। पुलिस को आरोपियों का इनपुट मिला है। जांच जारी है।

देर रात एफआईआर, 2 नामजद
देर रात मृतक की पत्नी की बहन प्रेमा पत्नी रमणलाल सरगड़ा ने कोतवाली में रिपोर्ट दी। इसमें उसने सईद नाम के शख्स से भूमि का पुराना विवाद बताया। साथ ही लिखा कि इसके चलते पहले हमला हो चुका है। प्रेमा में आशंका जताई कि उसी रंजिश में फिरोज पीपा, सईद की पत्नी के भाई कोटा निवासी शरीफ और अन्य द्वारा रविवार रात गोली मारकर हत्या की है।

Show More
Varun Bhatt
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned