टोल से छूटे तो भी पकड़े जाएंगे ओवरलोड वाहन

Shivbhan Sharan Singh

Publish: Jun, 14 2018 05:47:11 PM (IST)

Baran, Rajasthan, India
टोल से छूटे तो भी पकड़े जाएंगे ओवरलोड वाहन

प्रतिमाह टोल नाकों से क्षमता से अधिक माल परिवहन करने वाले वाहनों की लिस्ट लेगा। फिर उनकी आरसी निलंबित करेगा।

टोल से छूटे तो भी पकड़े जाएंगे ओवरलोड वाहन
बारां. क्षमता से अधिक माल परिवहन करने वाले ओवरलोड वाहनों की खैर नहीं । परिवहन विभाग अब प्रतिमाह टोल नाकों से क्षमता से अधिक माल परिवहन करने वाले वाहनों की लिस्ट लेगा। फिर उनकी आरसी निलंबित करेगा। साथ ही भारी जुर्माना भी वसूल करेगा।
नेशनल हाइवे सहित नगरीय निकाय क्षेत्र में क्षमता से अधिक माल भरकर वाहन दौड़ते हैं, जिससे आए दिन सड़कों पर हादसे होते हैं। कई बार लोगों की जान भी चली जाती है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए परिवहन आयुक्तालय ने ओवर लोड वाहनों पर कार्रवाई करने का नया तरीका निकाला है। परिवहन विभाग के अधिकारियों का कहना है कि जिले में फतेहपुर, मुंडियर व गऊघाट तीन टोल नाके हैं। यहां से भारी वाहनों की आवाजाही रहती है। वाहन टोल नाके पर लगे धर्मकांटे से होकर निकलते हैं। इसका वजन नाके पर लगे इलेक्ट्रॉनिक सिस्टम पर अंकित हो जाता है। परिवहन विभाग के अधिकारी नाके से प्रतिमाह ऐसे ओवर लोड वाहनों की लिस्ट लेंगे।
यह है जुर्माने का प्रावधान
यदि किसी वाहन में 3 टन माल ज्यादा है तो 500 रुपए जुर्माना लगाया जाएगा। 10 टन पर 7 हजार 500 व 10 टन से ज्यादा होने पर प्रतिटन 1500 रुपए जुर्माना वसूला जाएगा।
& ओवर लोड वाहनों की लिस्ट टोल नाकों से प्रतिमाह ली जाएगी। फिर वाहन मालिक को नोटिस देकर बुलाया जाएगा। बाद में उनकी आरसी निलंबित की जाएगी। साथ ही भारी जुर्माना वसूला जाएगा।
अनिल कुमार, परिवहन निरीक्षक, बारां
परिवहन विभाग के अधिकारियों का कहना है कि उक्त प्रणाली से परिवहन निरीक्षकों का समय भी बचेगा, निरीक्षकों को दिनभर हाइवे पर खड़े रहकर ओवर लोड वाहनों का इंतजार नहीं करना पड़ेगा। बस माह में एक बार टोल नाके से लिस्ट लेकर वाहन मालिकों को ही बुला लिया जाएगा। इससे सड़क हादसों में भी कमी आएगी। बस माह में एक बार टोल नाके से लिस्ट लेकर वाहन मालिकों को ही बुला लिया जाएगा। इससे सड़क हादसों में भी कमी आएगी।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned