script रिश्वत लेने के मामले में फंसे एसडीओ पर गिरी गाज, सस्पेंड, जेई और संविदाकर्मी पहले ही जा चुके है जेल | SDO caught in bribery case, suspended, JE and contract workers have al | Patrika News

रिश्वत लेने के मामले में फंसे एसडीओ पर गिरी गाज, सस्पेंड, जेई और संविदाकर्मी पहले ही जा चुके है जेल

locationबरेलीPublished: Feb 03, 2024 12:13:48 pm

Submitted by:

Avanish Pandey

बरेली। बिजली निगम के जेई सूरजलाल गुप्ता और संविदाकर्मी नरेंद्र सिंह रावत के रिश्वत लेने के मामले में एसडीओ रामजगत वर्मा पर गाज गिर गई है। मध्यांचल विद्युत वितरण निगम के प्रबंध निदेशक भवानी सिंह खंगरौत ने उन्हें निलंबित कर दिया है। वह भ्रष्टाचार के मामले में नामजद हुए थे।

 

vdvs.jpg
37 मिनट पहले जेई और एसडीओ में हुई थी बातचीत

सुभाषनगर सबस्टेशन के जेई सुरजपाल गुप्ता और संविदाकर्मी नरेंद्र सिंह रावत 26 जनवरी को पांच हजार रुपये घूस लेते पकड़े गए थे। एसडीओ इस मामले में सह अभियुक्त हैं। तीनों के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण संगठन की ओर से रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। जेई और संविदाकर्मी जेल भेजे जा चुके हैं। एसडीओ के खिलाफ भी साक्ष्य मिल चुके हैं। घूसखोरी में पकड़े जाने से 37 मिनट पहले जेई और एसडीओ में बातचीत हुई थी।
एसडीओ को साजिश रचने का आरोप बनाया गया

जेई के फोन में इसकी रिकॉर्डिंग मिली थी। एसडीओ पर आईपीसी की धारा 120 बी यानी साजिश रचने का आरोप है। इसी आधार पर उनको निलंबित किया गया है। निलंबन अवधि में एसडीओ देवीपाटन क्षेत्र के गोंडा से संबद्ध रहेंगे।
एसडीओ का कृत्य गंभीर कदाचार की श्रेणी में आता है। इसीलिए उन्हें निलंबित किया गया गया है। - भवानी सिंह खंगरौत, प्रबंध निदेशक, मध्यांचल विद्युत वितरण निगम

ट्रेंडिंग वीडियो