बाड़मेर जेल में कोरोना का महाविस्फोट, 126 बंदी कोरोना पॉजिटिव

बाड़मेर जेल में 126 कोरोना संक्रमित, उपचार अब भगवान भरोसे
- 160 बंदियों की क्षमता वाली जेल में ठूसें 190, कोरोना संक्रमित मिले 126
- सोशल डिस्टेंस नहीं रख सकेंगे बंदी, 1-1 फीट की दूरी में शिफ्ट किए कोरोना संक्रमित

By: Mahendra Trivedi

Updated: 27 Aug 2020, 10:13 PM IST

बाड़मेर. बाड़मेर जिला कारागृह में बंदियों की स्वास्थ्य को लेकर लापरवाही सामने आ रही है। यहां जितनी क्षमता है उससे अधिक बंदी भरे है। बाड़मेर जेल में वर्तमान में 190 बंदियों को रखा गया है। जिसमें बुधवार को मिली कोरोना जांच रिपोर्ट में 126 बंदी संक्रमित पाए गए है। अब शेष 63 बंदी नेगेटिव है। अब संक्रमितों को 160 की क्षमता वाली जेल में ही कोविड सेंटर बनाकर शिफ्ट कर दिया गया है। यहां सोशल डिस्टेंस को लेकर कोई पुख्ता इंतजाम नहीं है। ऐसे में बंदियों को अब स्वास्थ्य को भय सता रहा है।

बाड़मेर जिला कारागृह में बंदियों की क्षमता 159 है। जबकि यहां अब 189 बंदी रखे है। जेल में वर्तमान में 5 बैरक है। 126 बंदियों को 3,4 व 5 नंबर बैरक में शिफ्ट किया गया है। नेगेटिव 63 बंदियों को पुराने 1 व 2 बैरक में रखा है। लेकिन बैरक में कोरोना संक्रमित 1-1 फीट की दूरी में शिफ्ट किए गए है। ऐसे में कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा सता रहा है। साथ ही उनके उपचार को लेकर पुख्ता इंतजाम नहीं किए गए है। बताया जा रहा है कि बंदियों ने विरोध भी जताया, लेकिन पुलिस प्रशासन के पास गार्ड का अभाव होने पर कोविड सेंटर में नहीं शिफ्ट कर पाए है।
ऐेेसे फैला संक्रमण
सूत्रों से मिली जानकारी में सामने आया है कि एक सप्ताह पहले 4 बंदी पॉजिटिव पाए गए थे। जिन्हें रसोई में खाना बनाने वालों के साथ शिफ्ट कर दिया था। ऐसी स्थिति में पूरी जेल में कोरोना का संक्रमण फैल गया।
बुर्जुगों को करेंगे कोविड सेंटर शिफ्ट
बाड़मेर जेल में अब तक मिली जांच रिपोर्ट में 126 कोरोना संक्रमित पाए गए है। जिसमें कई बुजुर्ग शामिल है। ऐसे में जेल चिकित्सकों ने उनकी सूची तैयार की गई है। जिसमें 60 साल से अधिक वाले बंदियों को कोविड सेंटर शिफ्ट किया जाएगा।
नए बंदी नहीं होंगे शिफ्ट
बाड़मेर जेल में नए बंदी शिफ्ट करने पर पूर्णत: रोक लगा दी गई है। अब पुलिस नए बंदियों को बालोतरा, जोधपुर या कहीं अन्य जेल में शिफ्ट करेगी।
कलक्टर-एसपी पहुंचे जेल
जेल में बड़ी संख्या में कोरोना संक्रमित मिलने पर प्रशासनिक व चिकित्सा महकमें में हड़कंप मच गया है। मामले की गंभीरता को देखते हुए जिला कलक्टर विश्राम मीणा, पुलिस अधीक्षक आनंद शर्मा सहित चिकित्सा विभाग की टीमें जेल पहुंची। जहां व्यवस्थाओं का जायजा लेकर आवश्यक निर्देश दिए गए है।
नेगेटिव बंदियों को संक्रमण का खतरा
जेल में वर्तमान में 63 बंदियों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। परिसर में 126 संक्रमित साथ होने पर उन्हें संक्रमण का खतरा सता रहा है। इनके लिए भी जेल व जिला प्रशासन ने पुख्ता इंतजाम नहीं किए गए है।
- जेल में 126 कोरोना संक्रमित
बाड़मेर जेल में कोविड जांच के लिए 189 बंदियों के नमूने लिए गए थे। जिसमें 126 बंदी पॉजिटिव मिले है। जेल को कोविड सेंटर बना दिया गया है। रोगियों के उपचार के लिए चिकित्सा विभाग की टीमें तैनात कर दी गई है। 63 नेगेटिव बंदियों को अन्य बैरक में शिफ्ट किया गया है। क्षमता से ज्यादा बंदी है। समुचित इंतजाम किए है, जेलर को सुरक्षा की हिदायत दी गई है। - विश्राम मीणा, जिला कलक्टर, बाड़मेर

Mahendra Trivedi Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned