scriptcrime alert | तीन दिन से लापता था बिहार का श्रमिक, पेड़ से लटकता मिला शव | Patrika News

तीन दिन से लापता था बिहार का श्रमिक, पेड़ से लटकता मिला शव

locationबाड़मेरPublished: Feb 07, 2024 08:30:06 pm

Submitted by:

Mahendra Trivedi

पुलिस टीम ने मौका मुआयना कर शव की शिनाख्त विनोदकुमार पुत्र बिंदा रजक निवासी सैदनपुर खंजहा जिला वैशाली बिहार के रूप में की। इसी व्यक्ति की पचपदरा थाने में सोमवार को इसके भाई दीपकुमार ने गुमशुदगी रिपोर्ट दर्ज करवाई थी

तीन दिन से लापता था श्रमिक, पेड़ से लटकता मिला शव
तीन दिन से लापता था श्रमिक, पेड़ से लटकता मिला शव
  • कंपनी की ओर से बनाई गई कॉलोनी में रहता था श्रमिक
  • नेवाई गांव का मामला
पचपदरा थाना क्षेत्र के नेवाई गांव में बुधवार को तीन दिन से लापता एक श्रमिक का बबूल की झाड़ी से लटकता हुआ शव मिला है। इससे एकबारगी की सनसनी मच गई। सूचना पर पचपदरा थाना पुलिस ने मौके पर पहुंच कर शव कब्जे में लेकर चिकित्सालय की मोर्चरी में पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंपा है।
थानाधिकारी लेखराज ने बताया कि बुधवार सुबह करीब 10 बजे सूचना मिली कि नेवाई सरहद में मेघा कंपनी के यार्ड के पास बबूल की झाडि़यों में एक व्यक्ति का शव लटक रहा है। इस पर पुलिस टीम को मौके पर भेजा गया। पुलिस टीम ने मौका मुआयना कर शव की शिनाख्त विनोदकुमार पुत्र बिंदा रजक निवासी सैदनपुर खंजहा जिला वैशाली बिहार के रूप में की। इसी व्यक्ति की पचपदरा थाने में सोमवार को इसके भाई दीपकुमार ने गुमशुदगी रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। इसके बाद मौके से मृतक का शव एंबुलेंस से पचपदरा चिकित्सालय लाया गया। यहां पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंपा गया।
कॉलोनी से गायब हो गया था

पुलिस ने मृतक के भाई की रिपोर्ट पर मर्ग का प्रकरण दर्ज कर जांच शुरू की है। उल्लेखनीय है कि नेवाई गांव की सरहद में रिफाइनरी में कार्यरत इंजीनियरिंग कंपनी का यार्ड है। यहां पर काम करने वाले श्रमिकों के लिए कंपनी की ओर से यहीं आवासीय कॉलोनी बनाई गई है। श्रमिक विनोद कुमार इसी कॉलोनी से रविवार शाम करीब 4 बजे गायब हो गया था।

ट्रेंडिंग वीडियो