दो वर्ष से भूखंड आंवटन अभाव में धूल फांक रही सब्जी-फल मण्डी

प्रशासनिक अनदेखी पड़ रही भारी
- हर दिन कारोबारी व खरीदार उठाते हैं परेशानी

By: Dilip dave

Published: 07 Jun 2018, 07:08 PM IST

 

-

बालोतरा.
नगर बालोतरा में दो करोड़ से अधिक लागत से दो वर्ष से अधिक समय पूर्व बनकर तैयार हुई नई सब्जी मण्डी भूखंड आंवटन के अभाव में जहां धूल फांक रही है, वहीं दूसरी ओर सब्जी कारोबार व खरीदारी को लेकर हर दिन बड़ी संख्या में कारोबारियों व आमजन को पग पग परेशानियां उठानी पड़ती है। प्रशासनिक अधिकारियों के भूखंड आंवटन कार्य में रूचि नहीं लेने से सब्जी कारोबारियों व आमजन में रोष है।

शहर व क्षेत्रवासियों की जरूरत को लेकर दो दशक पूर्व तत्कालीन नगर पालिका प्रशासन ने शहीद सरदार भगतसिंह सभा स्थल के समीप सब्जी व फल मण्डी का निर्माण किया था। इसके निर्माण पर लाखों रुपए खर्च किए थे। इस पर सब्जी फल के कारोबार व खरीदारी को लेकर अगले कई वर्षों तक कारोबारियों व खरीदारों को अच्छी सुविधा मिलती रही। लेकिन इसके बाद शहर व क्षेत्र की बढ़ी आबादी पर पुरानी सब्जी मण्डी नाकाफी साबित हो रही है। इसमें किए अतिक्रमण, गदंगी, बेसहारा पशुओं का जमावड़ा आदि अन्य समस्याओं को लेकर खरीदारों को हर दिन परेशानियां उठानी पड़ती है। इस पर प्रदेश सरकार ने शहर के वीर दुर्गादास कृषि उपज मण्डी में खाली पड़ी जमीन पर नई सब्जी, फल मण्डी निर्माण का निर्णय लिया था।
धूल फांक रही सब्जी-फल मण्डी- प्रदेश सरकार ने निर्णय लेते हुए वीर दुर्गादास कृषि उपज मण्डी परिसर के एक भाग में 2 करोड़ से अधिक राशि खर्च कर नई सब्जी, फल मण्डी का निर्माण करवाया। मण्डी में एक बड़ा प्लेटफार्म, पेयजल के लिए टांका, चार सीसी सड़कें, चारदीवारी,चैक पोस्ट, रोडलाइट आदि जरूरत की हर सुविधा का निर्माण करवाया। निर्माण के दो वर्ष से अधिक समय बाद भी भूखंड आंवटन के अभाव में इसका संचालन शुरू नहीं हो रहा है। इस पर सब्जी-फल कारोबारियों व खरीदारों को हर दिन परेशानियां उठानी पड़ती है।

भारी पड़ रही प्रशासनिक अनदेखी- मण्डी निर्माण के बाद भूखंड की प्रक्रिया को लेकर न्यायालय में परिवाद चल रहा था। करीब छह माह पूर्व इस मामले का निस्तारण हुआ था। इसके बावजूद अभी तक आंवटन की बैठक आयोजित कर भूखंड आंवटन के लिए आवेदन आमंत्रित नहीं किए गए है। जानकारी अनुसार जुलाई माह में बैठक आयोजित होगी। इसके बाद आवेदन आंमत्रित कर लॉटरी से 85 भूखण्ड आंवटित किए जाएंगे। आंवटियों के गोदाम, कार्यालय बनाने में छह-आठ माह भर का समय लगेगा। इस पर नववर्ष से पूर्व नई सब्जी, फल मण्डी का संचालन शुरू होने की उम्मीद दूर दूर तक नजर नहीं आ रही है।
व्यू.

पुरानी सब्जी,फल मण्डी बहुत छोटी पड़ रही है। कामकाज को लेकर हर दिन बड़ी परेशानी उठानी पड़ती है। कृषि मण्डी प्रशासन शीघ्र बैठक बुलाकर भूखंड आंवटित करें।
गणपत माली फल कारोबारी

नई मण्डी निर्माण के बीते दो वर्ष बाद भी इसका संचालन शुरू नहीं होना, बड़े अफसोस की बात है। हर दिन हजारों लोग परेशानी उठाते हैं। प्रशासन संचालन शुरू करें।
दिनेश माली सब्जी कारोबारी

पुरानी सब्जी मण्डी में अव्यवस्थाओं का जमावड़ा है। कामकाज को लेकर हर दिन परेशानी उठाते हैं। मण्डी व उपखंड प्रशासन शीघ्र भूखण्डों का आंवटन करें। इससे संचालन शुरू होवें।
सूरज पंवार सब्जी कारोबारी

10 जुलाई को आंवटन समिति की बैठक आयोजित होगी। इसमें ब्लॉक व वर्ग आरक्षण निर्धारण किया जाएगा। इसके बाद आवेदन पत्र मांग कर लॉटरी से भूखण्ड आंवटित किए जाएंगे।
अशोक शर्मा सचिव

श्री वीर दुर्गादास कृषि उपज मण्डी बालोतरा

 

 

Dilip dave Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned