रिश्तेदार से मांगा टोल तो भड़का थानेदार। पहुंचा दंबगई करने, टोलकर्मियों ने ठोक दिया। फिर हुआ एेसा...।

bhawani singh

Publish: Dec, 08 2017 12:09:52 PM (IST)

Barmer, Rajasthan, India
रिश्तेदार से मांगा टोल तो भड़का थानेदार। पहुंचा दंबगई करने, टोलकर्मियों ने ठोक दिया। फिर हुआ एेसा...।

मेगा हाईवे पर भूंका भगतसिंह गांव स्थित टोल प्लाजा का मामला, सिवाना थानाधिकारी निलंबित, शांतिभंग के आरोप में 5 टोलकर्मी गिरफ्तार

 

सिणधरी क्षेत्र में रिश्तेदारों से टोल वसूली पर पहुंचे सिवाना थानेदार, कहासुनी के बाद मारपीट!

सिणधरी/बाड़मेर. सिणधरी थाना क्षेत्र के भूंका भगतसिंह गांव में मेगा हाईवे पर बुधवार रात सिवाना थानाधिकारी और टोलकर्मियों के बीच टोल वसूली को लेकर कहासुनी हो गई। इस बीच मामला बढ़ा और दोनों ही पक्षों ने एक-दूसरे पर हमला कर दिया। इससे थानाधिकारी को चोटें आई तो टोलकर्मी भी घायल हुए। देर रात 12:30 बजे हुई इस घटना पर गुरुवार को दिनभर पर्दा डालने की कोशिश होती रही। हालांकि जिला पुलिस अधीक्षक ने मामले की गंभीरता को देखते हुए सिवाना थानाधिकारी को निलंबित कर दिया। वहीं दूसरी ओर पुलिस ने शांतिभंग करने के आरोप में 5 टोलकर्मियों को भी गिरफ्तार किया है। इस संबंध में गुरुवार देर शाम तक कोई मामला दर्ज नहीं हुआ था।

 

शाम को कहासुनी, रात में मारपीट
जानकारी अनुसार मेगा हाईवे पर भूंका भगतसिंह गांव के पास स्थित टोल प्लाजा पर बुधवार शाम सिवाना थानाधिकारी रामनिवास विश्नोई के रिश्तेदारों की टोल वसूली को लेकर टोलकर्मियों से कहासुनी हो गई। इसकी जानकारी पर देर रात थानाधिकारी स्वयं समझाइश के लिए मौके पर पहुंचे। दोनों ही पक्ष अपना-अपना पक्ष रख रहे थे और बहस के बीच मामला बढ़ गया। इसके बाद थानाधिकारी समेत दोनों ही पक्ष आपस में उलझ गए और एक-दूसरे पर हमला कर दिया। मारपीट में थानाधिकारी के सिर में चोट आई तो टोलकर्मियों को भी चोटिल हुए। टोल प्लाजा इंचार्ज को बालोतरा के नाहटा अस्पताल में भर्ती करवाया गया।

 

5 टोलकर्मी गिरफ्तार
टोल प्लाजा पर उत्पात मचाकर शांति भंग करने के आरोप में गुरुवार को पुलिस ने टोलकर्मी विद्याधर पुत्र हेतराम, शंकरलाल पुत्र वेहनाराम, विनोद पुत्र सत्यनारायण, शिवराज पुत्र ईश्वरलाल एवं सांवलमल पुत्र गोमदास को गिरफ्तार किया।

 

नहीं हुआ मामला दर्ज
घटना में घायल टोल प्लाजा इंजार्च ने 18 घंटे बाद गुरुवार शाम 4 बजे पुलिस थाना सिणधरी में रिपोर्ट पेश की। हालांकि समाचार लिखे जाने तक पुलिस ने कोई मामला दर्ज नहीं किया था।

 

क्या एक-दूसरे के भिडऩे की पूरी तैयारी में थे दोनों पक्ष?

एक पक्ष : टोलकर्मियों ने आंखों में मिर्ची पाउडर डाला
एक पक्ष का आरोप है कि टोलकर्मियों ने थानाधिकारी एवं उनके रिश्तेदारों की आंखों में मिर्ची पाउडर झोंक दिया। इससे वे कुछ संभल पाते, उससे पहले ही टोलकर्मियों ने उनके साथ मारपीट शुरू कर दी।

 

दूसरा पक्ष : थानेदार ने की पहचान छुपाने की कोशिश
दूसरे पक्ष का कहना है कि थानेदार पहचान छिपाने के लिए बिना नंबर की स्कॉर्पियो गाड़ी में सिर पर साफे जैसा बांधकर पहुंचे। उन्होंने आधे घंटे तक टोल पर उत्पात मचाया और इसके बाद उनके साथ मारपीट की।

 

सिवाना थानाधिकारी को किया निलंबित

घटना को लेकर सिवाना थानाधिकारी रामनिवास विश्नोई को निलंबित कर दिया है। मामले की जांच अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक बालोतरा को सौंपी गई है। अमरसिंह राठौड़ को सिवाना थानाधिकारी के पद पर लगाया गया है।-डॉ. गगनदीप सिंगला, पुलिस अधीक्षक

 

इधर, आवागमन बाधित करने पर एक गिरफ्तार

भूंका भगतसिंह टोल प्लाजा पर ही गुरुवार शाम 5:30 पांच बजे चालक पीथाराम पुत्र शंकरलाल जाट निवासी दूधवा ने ट्रेलर को तिरछा खड़ा कर आवागमन बाधित किया। इससे कई वाहन चालकों को बेवजह परेशान होना पड़ा। पुलिस ने मौके पर जाकर आवागमन सुचारू करवाया तथा वाहन चालक को शांतिभंग के आरोप में गिरफ्तार किया।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned