हृदय विदारक घटना: चचेरे भाइयों की डिग्गी में डूबने से मौत, एक तीन बहनों का इकलौता भाई

हृदय विदारक घटना: चचेरे भाइयों की डिग्गी में डूबने से मौत, एक तीन बहनों का इकलौता भाई

kamlesh sharma | Updated: 15 Aug 2019, 08:39:33 AM (IST) Barmer, Barmer, Rajasthan, India

तीन छोटी बहनें,अपने इकलौते भाई के लिए बुधवार को ही राखियां लाई थी। रक्षाबंधन पर कौनसी बहन कौनसी राखी बांधेगी और क्या उपहार लेगी इसमें ही खोई थीं और भाई भी बुधवार को ही बीकानेर से घर लौटा था कि बहनों से रक्षाबंधन पर राखी बंधवाएगा।

रामसर(बाड़मेर)। तीन छोटी बहनें,अपने इकलौते भाई के लिए बुधवार को ही राखियां लाई थी। रक्षाबंधन पर कौनसी बहन कौनसी राखी बांधेगी और क्या उपहार लेगी इसमें ही खोई थीं और भाई भी बुधवार को ही बीकानेर से घर लौटा था कि बहनों से रक्षाबंधन पर राखी बंधवाएगा।

हंसते-खेलते राखी के सपने बुन रही इन बहनों को क्या पता था कि उन पर आज ही दु:खों का पहाड़ टूटने वाला है। भाई खेत पर नहाने गया और वहां डिग्गी में डूबने से मृत्यु हो गई। तीनों बहनों सहित पूरा परिवार बेसुध हो गया। छोटे से गागरिया गांव में राखी से पूर्व इतनी बड़ी घटना ने बड़ा दु:ख दे दिया। इसी हादसे में उसके चचेरे भाई की भी जान गई।

गागरिया गांव निवासी चोखाराम (19 ) पुत्र गंगाराम बीकानेर में पढ़ाई करता था और रक्षाबंधन के अवकाश पर घर पहुंचा। बुधवार दोपहर को चचेरे भाई सुरेश (23 ) पुत्र केसाराम के साथ गडरारोड स्थित अपने फार्म हाउस चला गया और वहां पर दोनों डिग्गी में नहाने को उतर गए। यहां पानी की गहराई भांप नहीं पाए और दोनों डूब गए। आस-पास मौजूद बच्चे चिल्लाए तो लोग दौड़कर आए और दोनों को अस्पताल ले गए जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित किया।

परिवार पर टूटा कहर
सुरेश और चोखाराम दोनों चचेरे भाई हैं और परिजन फार्म हाउस से उनके घर लौटने का इंतजार कर रहे थे लेकिन जैसे ही यह खबर सुनी उनके होश उड़ गए। चोखाराम की तीनों बहनों पर वज्रपात हो गया तो सुरेश के भाई बहिनों के लिए यह घटना पहाड़ जैसी थी।

होनहार था चोखाराम
चोखाराम पढ़ाई में अव्वल था। बारहवीं में उसके करीब 80 प्रतिशत अंक बने थे जिस कारण उसका स्कूल के बोर्ड पर भी फोटो लगा हुआ है। पढ़ाई में अव्वल होने पर आगे पढऩे को परिजन ने बीकानेर भेजा।

सोशल मीडिया पर दी थी रक्षाबंधन की बधाई
सुरेश ने सोशल मीडिया पर दोपहर 1.30 बजे देशवासियों को रक्षाबंधन की शुभकामनाएं दी थी।

गांव में शोक की लहर
गागरिया गांव में जैसे ही दो युवकों के रक्षाबंधन से पहले डूबकर मरने की सूचना हुई गांव में शोक छा गया। लोग परिजनों को ढाढ़स बंधाने पहुंचे लेकिन खुद की रुलाई नहीं रोक पा रहे थे। एक साथ दो चचेरे भाइयों की अर्थी राखी से पहले उठी तो बहनों का रुदन देखकर लोगों का कलेजा कांप गया। अधिकांश घरों में चूल्हे ठण्डे रहे वहीं राखी के त्यौहार का उत्साह भी गांव में फीका हो गया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned