वीवीपैट और ईवीएम से वोटिंग में लगता वक्त अधिक, समय सीमा बढ़ाएं

वीवीपैट और ईवीएम से वोटिंग में लगता वक्त  अधिक, समय सीमा बढ़ाएं

Dileep Kumar Dave | Publish: Dec, 08 2018 11:57:00 PM (IST) Barmer, Barmer, Rajasthan, India

मतदान के बाद बोले मतदाता

 

 

 

- इसलिए उठी आवाज- लम्बे इंतजार के बाद भी नहीं कर पाए मतदान

 

बालोतरा. विधानसभा चुनाव को लेकर शुक्रवार को मतदान हुआ। इस दौरान वीवीपैट और ईवीएम से मत पड़े, जिसमें अधिक समय लगने पर मतदाताओं को घंटों इंतजार करना पड़ा तो कई जने परेशान होकर बिना मत दिए ही रवाना हो गए। इन वंचित मतदाताओं ने अपनी पीड़ा उजागर करते हुए कहा कि वीवीपैट और ईवीएम के चलते मत देने में अधिक समय लगता है , एेसे में समय सीमा को बढ़ाया जाएं जिसके की अधिकांश मतदाता मताधिकार का उपयोग कर सकें। वहीं लोगों ने मतदान केन्द्रों की तादाद बढ़ाने की भी मांग की।

मतदान केन्द्र बढ़ाए जाएं-

मतदान केन्द्रों पर मतदान शुरू होने से शाम पांच बजे तक लंबी कतारें लगी हुई थी। इस पर खड़े लोगों को अधिक परेशानी उठानी पड़ी। इससे बचने के लिए मेरे बहुत से मित्रों ने मतदान नहीं किया। निर्वाचन आयोग मतदान केन्द्रों की संख्या बढ़ाएं। - सुभाष मेहता
लम्बी कतारों से परेशानी- मतदान करने के लिए मैं आवश्यक कार्य कर मतदान केन्द्र पर पहुंचा, लेकिन लगी कतारों में खड़े रहने व मतदान करने में ही आधा घंटा समय लग गया। बहुत परेशानी उठानी पड़ी। निर्वाचन आयोग मतदान केन्द्रों की संख्या बढ़ाएं। - पवन गर्ग

मतदान दिवस बढाएं- निर्वाचन आयोग मतदान को बढ़ावा देने के लिए प्रचार प्रसार पर लाखों-करोड़ों रुपए खर्चकरती है। बावजूद शत प्रतिशत मतदान नहीं होता है। इस पर निर्वाचन आयोग मतदान दिवस बढ़ाकर दो दिन करें। इससे की वंचित मतदाताओं को मतदान करने का अवसर मिल सके। - महेन्द्र डागा
समय सीमा बढ़ाए- हर चुनाव में मतदान केन्द्रों पर लंबी लगी कतारों पर मतदान के लिए पहुंचने पर अधिक परेशानी उठानी पड़ती है। घंटों पैरों पर खड़े रहने की परेशानी के साथ समय की बर्बादी होती है। इस पर बहुत से लोग मतदान करना पसंद नहीं करते। निर्वाचन आयोग मतदान की समय सीमा बढ़ाएं। - नरेश माली

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned