जनपद अध्यक्ष ने सीईओ पर लगाया रिश्वत लेने का आरोप

पीएम आवास योजना में हितग्राहियों के साथ भेदभाव की शिकायत

By: vishal yadav

Published: 17 Jun 2020, 09:56 AM IST

बड़वानी. जिले के पाटी जनपद पंचायत के तहत आने वाले ग्राम पंचायत सिंधी में प्रधानमंत्री आवास योजना में हितग्राहियों से रिश्वत मांगने का मामला सामने आया है। इस संबंध में पाटी जनपद अध्यक्ष साइनाबाई ने कलेक्टोरेट पहुंचकर कलेक्टर अमित तोमर को शिकायत दर्ज कराई। जनपद अध्यक्ष ने बताया कि अंगूर पिता चमारिया कृषि मजदूर को पीएम आवास योजना अंतर्गत 2017-18 में भवन स्वीकृत हुआ था। इसमें संंबंधित का भवन एक कक्ष कच्चा होकर अधूरा है। बावजूद जनपद सीईओ अभिषेक त्रिवेदी और बीसी राजेश वर्मा पर किश्त ऑनलाइन डालकर संबंधित से 20 हजार रुपए की रिश्वत की मांग करने का आरोप लगा है। वहीं संबंधित के पास 20 हजार रुपए नहीं होने पर अंतरसिंह पिता कसला निवासी सिंधी के खाता, आधार व अन्य दस्तावेज की पूर्ति कर चारों किश्त व मजदूरी का भुगतान उसे कर दिया।
इसी तरह कृषि मजदूर रामू पिता दूदा के नाम आईडी में चारों किश्त डालकर ऑनलाइन में मकान पूर्ण दिखा रहा है। वहीं सीईओ व बीसी ने रोजगार सहायक एक लाख बीस हजार का चेक देकर बैंक में जमा नहीं करने का बोल रहे है। बीसी द्वारा 20 हजार रुपए की रिश्वत मांगी गई। रिश्वत नहीं देेने पर ऊपर उनका नाम और अंदर रामेश्वर पिता तारला का के दस्तावेज के आधार पर उसके खाते में चार किश्त व मजदूरी का भुगतान कर दिया। जनपद अध्यक्ष ने बताया कि उन्होंने और कलस्टर प्रभारी महेश जोशी द्वारा इस संबंध में सीईओ व बीसी के इससे अवगत कराया, लेकिन उन्होंने इस ओर ध्यान नहीं दिया। इससे प्रतीत होता है कि दोनों अधिकारियों ने रिश्वत की मांग की है। ऐसे में दोषी अधिकारियों व जिनके मकान बने हैं, उप पर नियमानुसार कार्रवाई होना चाहिए।

vishal yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned