नहीं बन पा रहे जन्म प्रमाण पत्र, राशन भी हुआ बंद

ग्राम पंचायत में लगभग 100 के आस पास ऐसे महिला पुरूष व बच्चे हैं, जिनके पास जन्म का कोई प्रमाण नहीं है और ना ही उनका जन्म प्रमाण पत्र बन पा रहा

By: Gourishankar Jodha

Published: 24 Dec 2020, 10:55 PM IST

सांभरलेक। सांभर पंचायत समिति की ग्राम पंचायत हबसपुरा के अनेकों ग्रामीणों के पास में जन्म प्रमाण पत्र नहीं होने के कारण उनके आधार कार्ड नहीं बन पा रहे है।
आधार कार्ड नहीं बनने के कारण उनके राशन कार्ड की सीडिंग का कार्य नहीं हो पा रहा हंै, जिससे उन्हे रियायती दर पर राशन नहीं मिल पा रहां है। अब उनके सामने खाने का संकट उत्पन्न हो गया है। ग्राम पंचायत हबसपुरा के सरपंच पुरूषोत्तम मीणा ने बताया कि उनकी ग्राम पंचायत में लगभग 100 के आस पास ऐसे महिला पुरूष व बच्चे हैं, जिनके पास जन्म का कोई प्रमाण नहीं है और ना ही उनका जन्म प्रमाण पत्र बन पा रहा है, जिससे उनके राशन कार्ड का सीडिंग का कार्य भी नहीं हो पा रहा है और उनको रियायती दर पर राशन मिलना बंद हो गया है।

आधार कार्ड नहीं बन पा रहा
सरपंच मीणा ने बताया कि इस ग्राम पंचायत में अनेको ऐसे लोग जो कि आदिवासी है या पशु चराने का कार्य करते है और उन्होंने अभी तक ना तो आधार कार्ड बनवाए है ना ही उनके पास जन्म के प्रमाण पत्र है, जिससे परेशानी का सामना करना पड़ रहा हैं, इन लोगों के नाम राशन कार्ड व भामाशाह में तो अंकीत है लेकिन आधार कार्ड नहीं बन पा रहे है।

प्रशासन नहीं मान रहा
तहसील कार्यालय में सम्पर्क करने पर वहां पर भी उनके जन्म प्रमाण नहीं बन पा रहे हैं, जिससे वह इधर से उधर धूम रहे है। सरपंच मीणा ने बताया कि इन लोगों के पंचायत यहां के नागरिक होने का प्रमाण देने का तैयार है, लेकिन प्रशासन इस बात को नहीं मान रहा हैं। इसके संबंध में अधिकारी भी सही जानकारी नहीं दे रहे। यह लोग गरीब तबके के कारण इनके पास रोजगार व आय के साधन भी नहीं है, जिससे काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

इनका कहना है...
अगर इस पंचायत के ग्रामीणों के पास नियमानुसार कागजात होगें तो निश्चित रूप से इनके आधार कार्ड बनेंगे और इनका राशन कार्ड सीडिंग के कार्य भी होंगे, लेकिन कागज देखने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है।
राजकुमार कस्वा, उपजिला कलक्टर सांभरलेक

Gourishankar Jodha
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned