खबर का असर: प्रशासन हरकत में आया, पोषाहार की बाट जोह रहे विधार्थियों को गेहूं की चपाती हुई नसीब, अब सिर्फ चावल का इंतजार

खबर का असर: प्रशासन हरकत में आया, पोषाहार की बाट जोह रहे विधार्थियों को गेहूं की चपाती हुई नसीब, अब सिर्फ चावल का इंतजार

Vinod Sharma | Publish: Jan, 25 2018 10:09:45 PM (IST) Gathwari, Jaipur, Rajasthan, India

जमवारामगढ़ उपखण्ड के भोजपुरा के राआउप्रावि व जयचंदपुरा के राउप्रावि में पोषाहार का गेहूं बीतने का मामला

गठवाड़ी (जयपुर)। पिछले कई दिन से पोषाहार की बाट जोह रहे विधार्थियों को अब गेहूं की चपाती नसीब हो सकेंगी। राजस्थान पत्रिका में खबर प्रकाशित होने के बाद अधिकारियों ने विधालय प्रशासन से पोषाहार की जानकारी ली एवं गेहूं की सप्लाई करवाई। इसके बाद बच्चों को चपाती खिलाई गई। गौरतलब है कि जमवारामगढ़ उपखण्ड के भोजपुरा के राआउप्रावि, जयचंदपुरा के राउप्रावि में पोषाहार का गेहूं बीत जाने से विधालय प्रशासन विधार्थियों को रोजाना चावल खिला रहा था।

यह भी पढ़े: मिड-डे-मील: रोटी-चावल का स्वाद भूले विधार्थी, कहीं डेढ़ माह से गेहूं नहीं तो कहीं नहीं हो रही चावल की सप्लाई

वहीं कई विधालयों में चावल बीत जाने से विधालय प्रशासन विधार्थियों को मीनू के हिसाब से पोषाहार नहीं खिला पा रहे थे। इसे लेकर राजस्थान पत्रिका की बेवसाइट पर 'मिड-डे-मील: रोटी-चावल का स्वाद भूले विधार्थी, कहीं डेढ़ माह से गेहूं नहीं तो कहीं नहीं हो रही चावल की सप्लाई' समाचार प्रसारित कर विधार्थियों की परेशानी एवं अधिकारियों की लापरवाही को उजागर किया था। इसके बाद प्रशासन हरकत में आया और आनन-फानन में गेहूं की सप्लाई करवाई गई।

यह भी पढ़े: छोटा परिवार सुखी परिवार की धारणा पुरुषों के बजाय महिलाओं को अधिक रास आ रही,परिवार नियोजन से दूर पुरूष

अब सिर्फ चावल का इंतजार
राजस्थान पत्रिका की बेवसाइट पर समाचार प्रसारित होने के बाद विभागीय अधिकारियों ने आनन-फानन में पोषाहार प्रभारियों से रिपोर्ट लेकर गेहूं की सप्लाई तो करा दी, लेकिन कई विधालयों में पोषाहार में मंगलवार व गुरुवार को मिलने वाले चावल का इंतजार है। टोडालडी के राउप्रावि व धलेर की राप्रावि में अध्ययनरत विधार्थियों को अब भी चावल का इंतजार है।

यह भी पढ़े: मुनाफे का चक्कर: हरियाणा से सस्ता लाकर राजस्थान में सस्ता बेच रहे डीजल, सरकार का हो रहा राजस्व का नुकसान

इनका कहना है...
पोषाहार की सप्लाई के मामले में विभागीय अधिकारियों को अवगत करवाया गया है। पोषाहार के गेहूं की सप्लाई तो करा दी, लेकिन चावल नहीं आने से परेशानी बनी हुई है। इसके लिए लगातार एफसीआई व विभागीय अधिकारियों से सम्पर्क कर रहे हैं।
मुकेश खाण्डल, ब्लॉक प्रभारी, मिड डे मील जमवारामगढ़

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned