रिपोर्ट लेने दादी काटती रही वार्ड व लैब के बीच चक्कर

कोरोना : कोरोना संक्रमित में सम्पर्क में आए आइसोलेशन में भर्ती कर दिया जाता है, सेंपल की रिपोर्ट आने के बाद लेने के लिए होती है परेशानी, लैब व वार्ड के बीच चिकित्सक काटते है चक्कर

By: Bhagwat

Updated: 30 Jun 2020, 08:42 PM IST

ब्यावर.अनलॉक-0.1 में कोरोना संक्रमण के बचाव के लिए तमाम जागरुकता के कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। लोगों को अनावश्यक रुप से परेशानी नहीं हो। इसके लिए अलग-अलग जिम्मेदारियां दी गई है। इसके विपरित कोरोना संक्रमित के सम्पर्क में आई एक युवती की रिपोर्ट लेने के लिए उनकी दादी वार्ड व लैब के बीच चक्कर काटती रही। वार्ड के कर्मचारी लैब में जाकर रिपोर्ट लाने की बात कहकर इतिश्री कर दी तो लैब से वार्ड में रिपोर्ट भेज दिए जाने की बात कहकर अपनी जिम्मेदारी से बचते रहे। इससे दादी रिपोर्ट लेने को लेकर परेशान होती रही। जानकारी के अनुसार गत दिनों प्रदेश के बाहर से लौटी एक किशोरी को कुछ परेशानी होने और गले में दर्द होने के कारण अस्पताल दिखाया गया। जहां उसे आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कर उसके सेंपल जांच के लिए भिजवाए गए। मंगलवार को दादी रिपोर्ट लेने वार्ड में पहुंची। वार्ड में रिपोर्ट नहीं आने की बात कहकर बुजुर्ग महिला को लैब में भेज दिया गया। वृद्धा को चलने में परेशानी हो रही थी। करीब डेढ घंटे तक अस्पताल में इधर से उधर घूमती रही। उन्हें कोई संतोषप्रद जबाव नहीं मिला। आखिरकार वरिष्ठ चिकित्सक डॉ. दिलीप चौधरी के मामला ध्यान में आया तो उन्होंने इस मामले में रिपोर्ट वार्ड में भिजवाकर युवती की वार्ड से छुट्टी की प्रक्रिया पूरी करवाई।

इसलिए हुई परेशानी...

अमृतकौर चिकित्सालय के आइसोलेशन वार्ड में एक विशेषज्ञ चिकित्सक के अवकाश पर होने के कारण राउंड नहीं हो सका। न ही अस्पताल प्रशासन की ओर से अन्य चिकित्सक का राउंड करवाया। ऐसे में भर्ती मरीजों की रिपोर्ट आने के बावजूद उनका डिस्चार्ज करने की प्रक्रिया पूरी नहीं हो सकी। जबकि कोरोना संक्रमित के सम्पर्क में आए या बाहर से आने वाले व्यक्ति को एतियातन सुरक्षा के लिहाज से आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया जाता है। पीएमओ डॉ. आलोक श्रीवास्तव ने बताया कि विशेषज्ञ चिकित्सक के नहीं होने पर दूसरे चिकित्सक को राउंड पर भेजा था।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned