आखिर ब्यावर को मिली रानी

आखिर ब्यावर को मिली रानी

Tarun Kashyap | Publish: Apr, 17 2018 04:30:27 PM (IST) Beawar, Rajasthan, India

रानीखेत काठ-गोदाम एक्सप्रेस के ठहराव को लेकर लंबे समय से चल रहा संघर्षआखिर सोमवार को पूरा हो गया।


ब्यावर. रानीखेत काठ-गोदाम एक्सप्रेस के ठहराव को लेकर लंबे समय से चल रहा संघर्षआखिर सोमवार को पूरा हो गया। रानीखेत एक्सप्रेस के सोमवार सुबह ठहराव के दौरान वििान्न सामाजिक संगठनों सहित सांसद विधायक की ओर से स्वागत किया गया। रानीखेत के ठहराव के कारण शहर को जहां व्यापार मिलेगा वहीं विद्यार्थियों को भी अब चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे।
रेलवे स्टेशन पर अपने निर्धारित समय पर जैसलमेर से काठ गोदाम जा रही रानीखेत एक्सप्रेस सोमवार सुबह १० बजकर ३३ मिनट पर प्लेटफार्म संया एक पर पहुंची। जहां सांसद हरिओमसिंह राठौड़ व विधायक शंकर सिंह रावत ने टे्रन के लोको पायलट अनिल अटारिया, रामानुज वर्मा तथा गार्ड आर एस मीणा का साफा व माला पहनाकर स्वागत किया। सांसद राठौड़ व विधायक रावत ने कहा कि शहर में अन्य ट्रेनों की डिमांड है। यहां से रर्निंग थ्रू निकलने वाली ट्रेनों को जल्द रुकवाने का प्रयास किया जाएगा। वहीं रेलवे स्टेशन की आय को देखते हुए ए गे्रड का स्टेशन किए जाने के लिए भी प्रयास चल रहे हैं। ग्रेड बढऩे के बाद यहां पर कई सुविधाएं मिलने के साथ टे्रनों की सौगात स्वत मिल जाएगी। कार्यक्रम में सभापति बबीता चौहान, प्रधान गायत्री रावत, मंडल अध्यक्ष जयकिशन बल्दुआ, दिनेश कटारिया, उपसभापति सुनील मंूदड़ा, विष्णु शर्मा, पवन जैन, रिखबचंद खटोड़, तुलसी रंगवाला, चैनसुख हेड़ा, बाबरा मंडल अध्यक्ष शंकरसिंह रातडिय़ा, नंदलाल सिंघवी, पार्षद लेखराज कंवरिया, विनोद खाटवा, मंगतसिंह मोनू, नरेश कनोजिया, ईश्वर शरण तंवर, रविन्द्र जॉय, अंगदराम अजमेरा, राधेश्याम प्रजापत, देवेन्द्र सैन, कैलाश गहलोत, प्रकाश परिहार सहित कई लोग मौजूद थे।
अलग अलग हुआ स्वागत...
रानीखेत एक्सप्रेस के टे्रन का स्वागत करने के लिए लोगों में खासी होड़ रही। प्लटेफार्म पर नारेबाजी तक होने से माहौल में गरमाहट आ गई। जनजागरण मंच के अध्यक्ष रामसहाय शर्मा, राष्ट्रीय शोषित परिषद के बीरमराम भट्ट, आम आदमी पार्टीसहित एबीवीपी की ओर से भी लोको पायलट व गार्ड का स्वागत किया गया।
प्रतिदिन चाहिए २४ हजार...
अजमेर रेल मंडल के अपर मंडल प्रबंधक मनीष गुप्ता व वरिष्ठ मंडल परिचालन विवेक रावत ने बताया कि छह माह के लिए टे्रन का ठहराव किया गया है। इस टे्रन को स्थाई करने के लिए प्रतिदिन २४ हजार की आय होना आवश्यक है। तभी टे्रन का ठहराव ब्यावर में नियमित होगा।
अब होगी बुकिंग शुरू...
ब्यावर में रानीखेत का ठहराव होने के बाद अब आरक्षण बुकिंग शुरूकी जाएगी। इस टे्रन से अब लोगों को जैसलमेर से नई दिल्ली व काठ गोदाम तक टे्रन नहीं बदलनी पड़ेगी। इतना ही नहीं सुबह पौने आठ बजे बाद कोई टे्रन नहीं थी। लेकिन शहर को अब नियमित टे्रन मिल गई।
पहले ही दिन सात हजार की कमाई...
रानीखेत में सफर को लेकर लोगों के मन में उत्सुकता थी। इसी कारण लोगों ने टे्रन में सफर किया। १३८ टिकट की बिक्री से रेलवे को ७ हजार ३९० रुपए की आय हुई।
पत्रिका ने चलाया अभियान...
रानीखेत एक्सप्रेस के ठहराव को लेकर राजस्थान पत्रिका में शृंखलाबद्ध अभियान चलाया गया। इसमें टे्रन के ठहराव को लेकर आमजन की परिचर्चातथा इससे होने वाले लाभ को प्रमुखता से प्रकाशित किया गया।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned