पहले पेड़ से बांधा फिर लाठियों से पीटा, मदद के लिए चिल्लाता रहा युवक, ग्रामीणों ने कहा- बच्चा चोर है

  • मवेशियों को लेने जंगल गया था युवक।

बैतूल. मध्यप्रदेश के बैतूल में बच्चा चोरी के शक में एक युवक को पेड़ से बांधकर उसकी पिटाई की गई है। बताया जा रहा है कि जिस युवक की पेड़ से बांधकर पिटाई की गई है वह विक्षिप्त है। इस मामले में पाथाखेड़ा पुलिस ने चार लोगों को खिलाफ मामला दर्ज किया है। बताया जा रहा है कि एक्सरे रिपोर्ट आने के बाद और वायरल वीडियो को निरीक्षण करने के बाद आरोपियों की संख्या बढ़ाई जा सकती है।

झारखंड का रहने वाला है युवक
युवक की पिटाई का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो गया है। पुलिस के अनुसार, युवक का नाम छोटू है। छोटू झारखंड का रहने वाला है। बचपन से ही उसकी मानसिक स्थिति ठीक नहीं है। वो दो साल से पाथाखेड़ा में दिलीप सिंह के यहां रहकर उनके पशुओं की सेवा कर रहा है। रविवार को पशु रोड पार करके हवाई पट्टी के जंगल की ओर जाने लगे। पशुओं को वापस लाने के लिए छोटू भी जंगल की तरफ चला गया।

ग्रामीणों ने समझा बच्चा चोर
छोटू के जंगल जाते ही वहां मौजूद ग्रामीणों ने उसे जंगल में देखकर बच्चा चोर समझ लिया और उसे पकड़कर पेड़ से बांध दिया। उसके बाद ग्रामीणों ने उसकी जमकर पिटाई की। छोटू को पेड़ से बांधकर डंडे और पाइप से उसकी पिटाई की गई। इस दौरान छोटू मदद के लिए चिल्लाता रहा लेकिन कोई उसकी मदद के लिए नहीं आया। ग्रामीणों ने उसे मार-मार कर अधमरा कर दिया। पिटाई के बाद लोग उसे पेड़ में ही बांधकर चले गए। इस दौरान किसी ने डायल 100 में कॉल कर पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने छोटू को पेड़ से खोलकर अपने साथ थाने ले गई। फिलहाल छोटू को इलाज के बाद दिलीप सिंह के हवाले कर दिया गया है। बताया जा रहा है कि छोटू की पिटाई करने वालों में तीन युवक बगडोना गांव औऱ एक युवक पाथाखेड़ा गांव का रहने वाला है।


क्या कहना है पुलिस का
पाथाखेड़ा चौकी प्रभारी, नितिन पाल ने बताया कि बच्चा चोर समजकर विक्षिप्त युवक की पिटाई करने वाले अमरपाल, मंजल सिंह, सूरज और आदेश के खिलाफ मामला द्रज कर लिया गया है। एक्सरे रिपोर्ट आने के बाद धाराएं और आरोपी बढ़ सकते हैं। उन्होंने बताया कि युवक झारखंड का रहने वाला है और दिलीप सिंह के यहां पशुओं की देखरेख करता है।

Pawan Tiwari
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned