देह व्यापार के लिए ले जाई जा रहीं 8 लड़कियां छुड़ाई गईं, 1 महिला 2 युवक गिरफ्तार

पुलिस की सतर्कता के चलते नर्क बनने से बची 8 युवतियों की जिंदगी, पुलिस ने महिला सहित 3 आरोपियों को पकड़ा..

By: Shailendra Sharma

Published: 30 Dec 2020, 07:29 PM IST

बैतूल. मध्यप्रदेश में एक बार फिर मानव तस्करी का जिन्न बाहर आया है। बैतूल पुलिस ने मानव तस्करी करने वाले तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है जिनके चंगुल से 8 लड़कियों को मुक्त कराया गया है। आरोपी इन लड़कियों को छिंदवाड़ा से बालाजीपुरम ले जाने के बहाने लेकर आए थे और नागपुर में देह व्यापार के लिए लेकर जा रहे थे।

 

capture.jpg

मंदिर ले जाने के बहाने ले जा रहे थे नर्क
बैतूल एसपी सिमाला प्रसाद ने बुधवार को इस मामले का खुलासा करते हुए बताया कि मुलताई पुलिस को इस बात की सूचना मिली थी कि छिंदवाड़ा की कुछ लड़कियों को देह व्यापार के धंधे में धकेलने के लिए ले जाया रहा है। पुलिस ने सूचना को गंभीरता से लिया और एसडीओपी नम्रता सोंधिया के नेतृत्व में टीम बनाई गई। टीम दुनावा टोल बैरियर पर चैकिंग कर रही थी इसी दौरान मुखबिर की बताई हुई बोलेरो गाड़ी वहां पहुंची और जब पुलिस ने घेराबंदी कर गाड़ी को पकड़ा तो उसमें एक महिला व दो युवकों के साथ 8 लड़कियां सवार थी। पूछताछ करने पर लड़कियों ने बताया कि उन्हें बालाजीपुरम घुमाने का बोलकर देह व्यापार के लिए जबरन नागपुर ले जाया जा रहा था। इसके बदले 5-5 हजार रूपये देने की बात भी की जा रही थी। पुलिस ने एक महिला सहित 2 युवकों को गिरफ्तार किया है जिनके खिलाफ देहव्यापार अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है। गिरफ्तार किए गए सभी आरोपी छिंदवाड़ा जिले के रहने वाले हैं। पुलिस अब इन आरोपियों को रिमांड पर लेकर उनसे इस संबंध में पूछताछ करने की तैयारी में है कि देह व्यापार के इस धंधे में वो अब तक कितनी युवतियों को धकेल चुके हैं और उनके कौन कौन से साथी देह व्यापार के धंधे में लिप्त हैं।

Show More
Shailendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned