अलर्ट करने के बाद पारसडोह जलाशय के तीन गेट खोले

मुलताई डिविजन के बिसनूर पचधार गांव के पास बने पारसडोह डैम से 9 अगस्त से लगातार पानी छोड़ा जा रहा है। जलाशय का लेबल मेंटेनेंस करने के उद्देश्य से जलसंसाधन विभाग के देखरेख में पानी को छोड़ा जा रहा है। 9 अगस्त को एक गेट खोल कर पानी बहाया था, लेकिन 13 अगस्त गुरुवार के दिन से जलाशय के तीन गेट खोल कर 196 क्यूबिक लीटर प्रति सेकंड पानी को छोड़ा गया है।

By: Devendra Karande

Published: 15 Aug 2020, 04:03 AM IST

बैतूल/ आठनेर। मुलताई डिविजन के बिसनूर पचधार गांव के पास बने पारसडोह डैम से 9 अगस्त से लगातार पानी छोड़ा जा रहा है। जलाशय का लेबल मेंटेनेंस करने के उद्देश्य से जलसंसाधन विभाग के देखरेख में पानी को छोड़ा जा रहा है। 9 अगस्त को एक गेट खोल कर पानी बहाया था, लेकिन 13 अगस्त गुरुवार के दिन से जलाशय के तीन गेट खोल कर 196 क्यूबिक लीटर प्रति सेकंड पानी को छोड़ा गया है। जलाशय के गेट खुलने के बाद यहां का दृश्य देखने लोग पहुंच रहे हैं, लेकिन विभाग के द्वारा सुरक्षा की दृष्टि से यहां पर ज्यादा भीड़ भाड़ नहीं लगने दी।जलसंसाधन विभाग के अधिकारियों ने बताया कि डैम के गेट खोलने को लेकर समूचे क्षेत्र में अलर्ट किया गया था। जिसमें आठनेर थाना एवं अन्य जगहों पर सभी को सूचना दी गई। पारसडोह डैम से लगे सभी आसपास के गांव एवं जलाशय से क्षेत्र के ताप्ती नदी से लगने वाले ग्राम धनोरा, बुरहानपुर तक अलर्ट किया गया। सभी रास्ते में पडऩे वाली पुलिया ऊपर चाक-चौबंद व्यवस्था करके जलाशय से छोड़े गए पानी को लेकर अलर्ट किया गया है।
दिन भर होती रही रिमझिम फुहार
बैतूल शहर में दूसरे दिन भी मानसून सक्रिय रहा। सुबह से लेकर देर शाम तक हल्की और रिमझिम बारिश का दौर जारी रहा। बारिश के चलते तापमान में भी बड़ी गिरावट आई है। बताया गया कि तापमान में गिरावट से ठंड का असर भी बढ़ गया है। हालांकि आज तेज बारिश दर्ज नहीं की गई। जिले में पिछले चौबीस घंटों के दौरान ५८.९ मिमी बारिश दर्ज की गई है और अभी तक कुल ६०७ मिमी बारिश हो चुकी है। जबकि पिछले साल अभी तक ५९०.१ मिमी बारिश हुई थी। जिले में की औसत सामान्य बारिश १०८३.९ मिमी बताई जाती है। पिछले चौबीस घंटों में शुक्रवार सुबह आठ बजे तक बैतूल में ६७ मिमी, घोड़ाडोंगरी में ५० मिमी, चिचोली में सर्वाधिक १०१.३ मिमी, शाहपुर में ४५.६ मिमी, मुलताई में २६.६ मिमी, प्रभातपट्टन में २२.५ मिमी, आमला में ५४ मिमी, भैंसदेही में ६८ मिमी, आठनेर में ४२.४ मिमी और भीमपुर में ११२.० मिमी बारिश दर्ज की गई।
इनका कहना
-जलाशय के मेंटेनेंस को लेकर 9 अगस्त से पानी छोडऩे की कार्रवाई चल रही है। 14 अगस्त को 3 गेट खोले हैं।
-एसके नागले,जेई जलसंसाधन विभाग।

Devendra Karande Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned