किसान आवाज उठाता है तो उसे खालिस्तानी ठहरा दिया जाता है- चांदना

रूपवास कस्बे के मेला मैदान में बुधवार को कांग्रेस के १३६वें स्थापना दिवस पर किसान सम्मेलन का आयोजन राज्यमंत्री अशोक चांदना के मुख्यातिथ्य व क्षेत्रीय विधायक अमर सिंह जाटव की अध्यक्षता में हुआ।

By: rohit sharma

Published: 30 Dec 2020, 11:09 PM IST

भरतपुर. रूपवास कस्बे के मेला मैदान में बुधवार को कांग्रेस के १३६वें स्थापना दिवस पर किसान सम्मेलन का आयोजन राज्यमंत्री अशोक चांदना के मुख्यातिथ्य व क्षेत्रीय विधायक अमर सिंह जाटव की अध्यक्षता में हुआ। विशिष्ट अतिथि के रूप में मेयर अभिजीत कुमार, एआईसीसी सदस्य विवेक कटारा, ब्लॉक अध्यक्ष ज्ञानेश शर्मा, विजय सिंह, मुकेश सूपा, वीर विक्रम परमार, हिरदेश खितौलिया, पूर्व ब्लॉक अध्यक्ष चन्द्रकेश राजावत, सरपंच अतरसिंह, दीवान, यूथ कांग्रेस के जिला उपाध्यक्ष मक्खन पहलवान, यूथ ब्लॉक अध्यक्ष नवनीत डागुर, सुरेश राजावत, जय अनंत, सरपंच सुशील चौधरी मौजूद थे। कार्यक्रम में यूथ कार्यकर्ताओं ने मंत्री चांदना का ५१ फीट का साफा बांध व माला पहनाकर स्वागत किया। चांदना ने कहा कि अब देश में किसान बिल का विरोध करने वालों को सरकार खलिस्तानी बता देती है। जिन्हें आप खलिस्तानी बता रहे हो, उस सिख पंथ का इतिहास पता नहीं है। जब जब भारत की धरती को विदेशी आक्राता लूटने आए, तब-तब विदेशी लड़ाकों के सामने सिख पंथ के लोग दीवार बनकर इस देश के लिए खड़े रहे। आज भी जो लोग सीमा पर खड़े हंै, वह भी किसानों के पुत्र हैं। किसान आंदोलन को लेकर भाजपा के लोग गलत दिखा रहे हंै। भाजपा में जो है वह भी किसान के बेटे हैं। जवाहरलाल नेहरू ने कहा कि कुछ भी इंतजार किया जा सकता है, लेकिन किसान को इंतजार करवाना ठीक नहीं है। इंदिरा गांधी हरित क्रांति लेकर आई। जिस समय निजी मोबाइल कंपनी आई थी तो सब कुछ मुफ्त कर दिया गया। लेकिन आज सब कुछ महंगा कर दिया। नोटबंदी को प्रधानमंत्री ने फायदेमंद बताया फिर क्या सब जानते हैं। मंत्री ने कहा कि देश के किसानों ने जब जिम्मेदारी दी तो चौकीदार ने तीन काले कानून लगाकर अडानी व अम्बानी की तिजोरियां भरने की तैयारी की जा रही है। कॉन्ट्रेक्ट फार्मिंग के माध्यम से किसानों की भूमि को हड़पने का प्रयास हो रहा है। नगर निगम चेयरमैन ने किसान बिल की खामियों के बारे में किसानों को जानकारी दी। वहीं विधायक जाटव ने मंत्री को क्षेत्र की समस्याओं से अवगत कराया और कहा कि बयाना रूपवास विधानसभा में मुख्य रोजगार का साधन खनन ही है। खनन कार्य बंद होने से लोग बेरोजगार हो चुके हैं। खनन कार्य को वापस अनुमति दी जाए। मंत्री चांदना ने खेल स्टेडियम बनवाए जाने की घोषणा की। साथ ही खनन लीज शुरु करवाने के लिए मुख्यमंत्री से बात करने का आश्वासन दिया। कार्यक्रम का संचालन ब्लॉक अध्यक्ष ज्ञानेश शर्मा ने किया। वहीं, पार्षद अभिषेक कटारा ने वार्ड १४ में पेयजल लाइन डलवाने, पूर्व बार संघ अध्यक्ष जयप्रकाश पाराशर ने एडीजे कैप कोर्ट को स्थाई करने समेत अन्य मांग रखी। पार्षद पंकज शर्मा ने स्टेडियम व ओपन जिम खुलवाने, सरपंच संघ ने पंचम राज्य वित्त आयोग की दो किश्तों को जारी नहीं करने सहित ७ सूत्रीय मांगों का ज्ञापन दिया।

rohit sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned