जिला, पंचायत समिति व प्रदेश स्तर पर सम्मानित होंगे प्रगतिशील किसान

-जिले के लिए कृषि विभाग की 294.35 लाख रुपए की वार्षिक कार्ययोजना

By: Meghshyam Parashar

Updated: 06 Aug 2020, 04:47 PM IST

भरतपुर. जिला कलक्टर नथमल डिडेल ने कहा कि राज्य सरकार की ओर से जिले के लिए कृषि विभाग की वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिए स्वीकृत 294.35 लाख रुपए की वार्षिक कार्ययोजना का लाभ वास्तविक कृषकों को मिले। जिला कलक्टर एवं परिषद के अध्यक्ष डिडेल बुधवार को उनके कार्यालय कक्ष में हुई आत्मा परियोजना की अधिशाषी परिषद की बैठक की अध्यक्षता करते हुए निर्देशित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि परियोजना के तहत प्रगतिशील कृषकों का चयन कर उनको नवीन तकनीकी से जोडऩे के लिए पंचायत समितिवार शिविरों का आयोजन करें तथा कृषकों को राज्य एवं राज्य के बाहर बेहतर कृषि उत्पादन वाले क्षेत्रों का भ्रमण कराएं तथा कोरोना महामारी के चलते वर्तमान में कृषकों के प्रशिक्षण एवं भ्रमणों को स्थगित रखा जाए। बैठक में आत्मा परियोजना के परियोजना निदेशक योगेश कुमार शर्मा ने बताया कि वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिए राज्य सरकार की ओर से वार्षिक परियोजना स्वीकृत की गई है इसके तहत जिला स्तर, पंचायत समिति स्तर एवं प्रदेश स्तर पर प्रगतिशील कृषकों को सम्मानित कराया जाएगा। इसके तहत सात गतिविधियां चयनित की गई हैं इनमें कृषि, उद्यानिकी, पशुपालन एवं डेयरी, जैविक खेती, नवाचारी कृषि कार्य, मत्स्य पालन तथा फल-सब्जी प्रसंस्करण आदि के क्षेत्र में विशेष कार्य करने वाले प्रगतिशील कृषकों का चयन किया जाएगा। इस योजना के तहत पंचायत समिति स्तर पर पांच गतिविधियों के लिए चयनित कृषकों को 10-10 हजार, जिला स्तर पर 25-25 हजार तथा प्रदेश स्तर पर चयनित होने पर 50-50 हजार रुपए का पुरस्कार दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि परियोजना की ओर से महिला एवं बाल विकास विभाग के साथ समन्वय स्थापित कर ग्रामीण महिलाओं को प्रशिक्षित कर पंचायत समिति स्तर पर खाद्य सुरक्षा समूहों का गठन किया जाएगा तथा ग्रामीण महिलाओं को किचिन गार्डन किट उपलब्ध कराए जाएंगे तथा आवश्यक प्रशिक्षण दिया जाएगा। बैठक में कृषकों को उन्नत कृषि एवं नवीन तकनीकी की जानकारी देने के लिए किसान मेला एवं लघु अवधि अनुसंधान परियोजना का संचालन कृषि महाविद्यालय कुम्हेर एवं फार्म स्कूल सरसों अनुसंधान निदेशालय सेवर को आवंटित किया गया है। बैठक में सहायक निदेशक उद्यान जनक राज मीना, कृषि कॉलेज कुम्हेर के अधिष्ठाता डॉ. उदयभान सिंह, कृषि विज्ञान केन्द्र के प्रभारी डॉ. धनराज शर्मा, संयुक्त निदेशक पशुपालन डॉ. नागेश चैधरी, सरसों अनुसंधान निदेशालय के प्रधान वैज्ञानिक डॉ. अशोक शर्मा, आत्मा परियोजना के उप परियोजना निदेशक गणेश मीना आदि उपस्थित थे।

किसानों को देय सुविधा नामक पुस्तिका से किसानों को मिलेगा लाभ

कृषि विभाग की आत्मा परियोजना ने जिले के कृषकों को राज्य सरकार की विभिन्न योजनाओं एवं सुविधाओं की जानकारी देने एवं जागरूक कृषक बनाने के लिए राज्य सरकार की ओर से किसानों को देय सुविधा नामक पुस्तिका का विमोचन जिला कलक्टर एवं आत्मा परियोजना की अधिशाषी परिषद के अध्यक्ष जिला कलक्टर नथमल डिडेल ने बुधवार को उनके कार्यालय कक्ष में कृषि अधिकारी की उपस्थिति में किया। आत्मा परियोजना के परियोजना अधिकारी योगेश कुमार शर्मा ने पुस्तिका में दी गई योजनाओं के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए बताया कि यह पुस्तिका जिले के किसानों को कृषि विभाग की विभिन्न योजनाओं से जोड़कर उन्हें लाभान्वित कराने में सहायक सिद्ध होगी।

Meghshyam Parashar Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned